गाना / Title: शाम-ए-ग़म की क़सम, आज ग़मगीं हैं हम - shaam-e-Gam kii qasam, aaj Gamagii.n hai.n ham

चित्रपट / Film: Foot Path

संगीतकार / Music Director: Khaiyyam

गीतकार / Lyricist: Sardar Jafri, Majrooh

गायक / Singer(s): तलत महमूद-(Talat Mahmood)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



शाम-ए-ग़म की क़सम आज ग़मगीं हैं हम
आ भी जा आ भी जा आज मेरे सनम
शाम-ए-ग़म की क़सम
दिल परेशान हैं रात वीरान हैं
देख जा किस तरह आज तनहा हैं हम
शाम-ए-ग़म की क़सम

चैन कैसा जो पहलू में तू ही नहीं
मार डाले न दर्द-ए-जुदाई कहीं
रुत हंसीं हैं तो क्या चाँदनी है तो क्या
चाँदनी ज़ुल्म है और जुदाई सितम
शाम-ए-ग़म की क़सम

अब तो आजा के अब रात भी सो गई
ज़िन्दगी ग़म के सेहराव में खो गई   (२)
ढूँढती हैं नज़र तू कहाँ हैं मगर
देखते देखते आया आँखों में ग़म
शाम-ए-ग़म की क़सम



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

shaam-e-Gam kii qasam aaj Gamagii.n hai.n ham
aa bhii jaa aa bhii jaa aaj mere sanam
shaam-e-Gam kii qasam
dil pareshaan hai.n raat viiraan hai.n
dekh jaa kis tarah aaj tanahaa hai.n ham
shaam-e-Gam kii qasam

chain kaisaa jo pahaluu me.n tuu hii nahii.n
maar Daale na dard-e-judaaI kahii.n
rut ha.nsii.n hai.n to kyaa chaa.Ndanii hai to kyaa
chaa.Ndanii zulm hai aur judaaI sitam
shaam-e-Gam kii qasam

ab to aajaa ke ab raat bhii so gaI
zindagii Gam ke seharaav me.n kho gaI   (2)
Dhuu.NDhatii hai.n nazar tuu kahaa.N hai.n magar
dekhate dekhate aayaa aa.Nkho.n me.n Gam
shaam-e-Gam kii qasam