LyricsIndia.net

गाना / Title: उल्लू का पट्ठा - Ullu Ka Pattha

चित्रपट / Film: जग्गा जासूस-(Jagga Jasoos)

संगीतकार / Music Director: प्रितम चक्रवर्ती-(Pritam Chakraborty)

गीतकार / Lyricist: अमिताभ भट्टाचार्य-(Amitabh Bhattacharya)

गायक / Singer(s): अरिजित सिंग-(Arijit Singh)Chorusनिकिता गांधी-(Nikita Gandhi)

शेअर करें / Share Page

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
जाना ना हो जहाँ वहीं जाता है
दिल उल्लू का पट्ठा है
थोड़ी तकदीर क्यों आजमाता है
दिल उल्लू का पट्ठा है

जाना ना हो जहाँ वहीं जाता है
दिल उल्लू का पट्ठा है
थोड़ी तकदीर क्यों आजमाता है
दिल उल्लू का पट्ठा है

बे सर पैर की है इसकी आदतें
आफत को जान के देता है दावतें
ऐ ऐ ऐई..

जैसे आता है चुटकी में जाता है
दिल सौ सौ का छुट्टा है
हो जाना न हो जहाँ वहीं जाता है
दिल उल्लू का पट्ठा है

हम्म.. कन्फ्यूज है
दोस्ती पे इसे ऐतबार आधा है
रंग में दोस्ती के जो भंग घोल दे
इश्क का भूत सर पे सवार आधा है
निगल सके नहीं उगल सके

संगमरमर का बंगला बनाता है
दिल अकबर का पोता है
ओ.. जाना न हो जहाँ वहीं जाता है
दिल उल्लू का पट्ठा है

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
Jaana na ho jahan wahin jaata hai
dil ullu ka pattha hai
thodi takdeer kyun aajmata hai
dil ullu ka pattha hai

jaana na ho jahan wahin jaata hai
dil ullu ka pattha hai
thodi takdeer kyun aajmata hai
dil ullu ka pattha hai

be sar pair ki hai iski aadatein
aafat ko jaan ke deta hai daawatein
jaise aata hai chutki mein jaata hai
dil sau sau ka chutta hai
jaana na ho jahan wahin jaata hai
dil ullu ka pattha hai

hmm.. confuse hai
dosti pe isey aitbar aadha hai
rang mein dosti ke jo bhang ghol de
ishq ka bhoot sar pe sawar aadha hai
nigal sake nahi ugal sake

sangmarmar ka bangla banata hai
dil akbar ka pota hai
o.. jaana na ho jahan wahin jaata hai
dil ullu ka pattha hai

कुछ और सुझाव / Related content: