गाना / Title: लब-ए-खामोश से अफ़्शा होगा - lab-e-khaamosh se afshaa hogaa

चित्रपट / Film: non-Film

संगीतकार / Music Director:

गीतकार / Lyricist: Ahmed Nadeem Qasmi

गायक / Singer(s): Feroz Akhtar

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



ये मौका है अपने खास-ए-यार को खुश करने का ... 

इसे सुनिये तो आशिक गा रहे हैं लेकिन महबूबा भी गा सकती है 
(कुछ editingके बाद:) क्यूँके अगर लड़कियां खास-ओ-खास हो सकती हैं 
तो लड़के भी कोइ खास-ए-आम नहीं.  ठीक कह रही हूँ न?
हम आपके लिये खास, आप हमारे लिये खास
ये बात और है के आप बयान कर देते हैं और हम नही 

hrule
(लब-ए-खामोश से अफ़्शा होगा 
राज़ हर रंग में रुसवा होगा ) - २
किस तव्वाको पे किसी को देखें - २
कोई तुमसा भी हसीन क्या होगा - ३

जिस भी फ़नकार का शहकार हो तुम - २
उसने सदियों तुम्हें सोचा होगा - २
राज़ हर रंग में रुसवा होगा    
लब-ए-खमोश से अफ़्शा होगा    

ज़ीनत-ए-घलकाये आगोश बनो - २
दूर बैठोगे तो चर्चा होगा 
लब-ए-खमोश से अफ़्शा होगा   
राज़ हर रंग में रुसवा होगा   

सारी दुनिया हमें पहचानती है  - २
कोई हमसा भी ना तन्हा होगा  - २

(लब-ए-खमोश से अफ़्शा होगा   
राज़ हर रंग में रुसवा होगा  ) - २



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

ye maukaa hai apane khaas-e-yaar ko khush karane kaa ... 

ise suniye to aashik gaa rahe hai.n lekin mahabuubaa bhI gaa sakatii hai 
(kuchh ##editing##ke baad:) kyU.Nke agar la.Dakiyaa.n khaas-o-khaas ho sakatii hai.n 
to la.Dake bhI koi khaas-e-aam nahii.n.  Thiik kah rahI huu.N na?
ham aapake liye khaas, aap hamaare liye khaas
ye baat aur hai ke aap bayaan kar dete hai.n aur ham nahii 

hrule
(lab-e-khaamosh se afshaa hogaa 
raaz har ra.ng me.n rusavaa hogaa ) - 2
kis tavvaako pe kisii ko dekhe.n - 2
koI tumasA bhI hasiin kyA hogaa - 3

jis bhI fanakaar kA shahakaar ho tum - 2
usane sadiyo.n tumhe.n sochaa hogaa - 2
raaz har ra.ng me.n rusavaa hogaa    
lab-e-khamosh se afshaa hogaa    

ziinat-e-ghalakaaye aagosh bano - 2
dUr baiThoge to charchaa hogaa 
lab-e-khamosh se afshaa hogaa   
raaz har ra.ng me.n rusavaa hogaa   

sArI duniyA hame.n pahachaanatii hai  - 2
koI hamasaa bhI nA tanhaa hogaa  - 2

(lab-e-khamosh se afshaa hogaa   
raaz har ra.ng me.n rusavaa hogaa  ) - 2