LyricsIndia.net

गाना / Title: ज़रा सी बात का हुज़ूर ने फ़साना कर दिया - zaraa sii baat kaa huzuur ne fasaanaa kar diyaa

चित्रपट / Film: Musafir Khana

संगीतकार / Music Director: ओ. पी. नय्यर-(O P Nayyar)

गीतकार / Lyricist: मजरूह सुलतानपुरी-(Majrooh Sultanpuri)

गायक / Singer(s): आशा भोसले-(Asha Bhosale)

शेअर करें / Share Page

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
ज़रा सी बात का हुज़ूर ने फ़साना कर दिया
ऐसे रूठे हो जि सैंय्या कि दीवाना कर दिया

मुखसे न बोली, मैं तो यूँ ही ज़रा बन के
इतनी सी बात पे जी चल दिये तन के
बस इतनी बात का हुज़ूर ने फ़साना कर दिया
ऐसे रूठे हो   ...

प्यार में तेरे ऐसे जिया मोरा धड़के
कहनी पड़ी है दिल की बात नज़र से
नज़र की बात का, हुज़ूर ने फ़साना कर दिया
ऐसे रूठे हो   ...

जब से लगायी तोरे प्यार की बिन्दिया
चैन दिनों का खोया, रातों की निन्दिया
मेरे दिन रात का हुज़ूर ने फ़साना कर दिया
ऐसे रूठे हो   ...

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
zaraa sii baat kaa huzuur ne fasaanaa kar diyaa
aise ruuThe ho ji sai.nyyaa ki diivaanaa kar diyaa

mukhase na bolii, mai.n to yuu.N hii zaraa ban ke
itanii sii baat pe jii chal diye tan ke
bas itanii baat kaa huzuur ne fasaanaa kar diyaa
aise ruuThe ho   ...

pyaar me.n tere aise jiyaa moraa dha.Dake
kahanii pa.Dii hai dil kii baat nazar se
nazar kii baat kaa, huzuur ne fasaanaa kar diyaa
aise ruuThe ho   ...

jab se lagaayii tore pyaar kii bindiyaa
chain dino.n kaa khoyaa, raato.n kii nindiyaa
mere din raat kaa huzuur ne fasaanaa kar diyaa
aise ruuThe ho   ...

कुछ और सुझाव / Related content: