गाना / Title: दश्त-ए-तन्हाई में ऐ जान-ए-जहाँ लरज़ान है - dasht-e-tanhaa_ii me.n ai jaan-e-jahaa.N larazaan hai

चित्रपट / Film: "अज्ञात"-(Unknown)

संगीतकार / Music Director:

गीतकार / Lyricist: Faiz Ahmed Faiz

गायक / Singer(s): Iqbal Bano

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



दश्त-ए-तन्हाई में ऐ जान-ए-जहान लरज़ान है
तेरी आवाज़ के साये तेरे होंठों के सेराब
दश्त-ए-तन्हाई में दूरी के खस-ओ-खाग़ तले
खिल रहे हैं तेरे पहलू के सामें और गुलाब

दश्त-ए-तन्हाई में   ...







उठ रही है कहीं क़ुरबत से तेरी साँस की आँच
अपनी खुशबू में सुलगती हुई
मद्धम, मद्धम दूर उफ़क़ पार चमकती हुइ
क़तरा क़तरा मिल रही है तेरी दिलदार नज़र की शबनम

दश्त-ए-तन्हाई में   ...




इस क़दर प्यार से ऐ जान-ए-जहाँ रखा है
दिल के रुख़सार पे इस वक़्त तेरी याद ने हाथ
यूँ ग़ुमाँ होता है गरजे है अभी सुभ-ए-फ़िराक़
ढल गय्य हिज्र का दिन आ भी गयी वस्ल की रात

दश्त-ए-तन्हाई में   ...







दश्त-ए-तन्हाई में ऐ जान-ए-जहान लरज़ान है
तेरी आवाज़ के साये तेरे होंठों के सेराब




        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

dasht-e-tanhaa_ii me.n ai jaan-e-jahaan larazaan hai
terii aavaaz ke saaye tere ho.nTho.n ke seraab
dasht-e-tanhaa_ii me.n duurii ke khas-o-khaaG tale
khil rahe hai.n tere pahaluu ke saame.n aur gulaab

dasht-e-tanhaa_ii me.n   ...







uTh rahii hai kahii.n qurabat se terii saa.Ns kii aa.Nch
apanii khushabuu me.n sulagatii huii
maddham, maddham duur ufaq paar chamakatii hui
qataraa qataraa mil rahii hai terii diladaar nazar kii shabanam

dasht-e-tanhaa_ii me.n   ...




is qadar pyaar se ai jaan-e-jahaa.N rakhaa hai
dil ke ruKasaar pe is vaqt terii yaad ne haath
yuu.N Gumaa.N hotaa hai garaje hai abhii subh-e-firaaq
Dhal gayya hijr kaa din aa bhii gayii vasl kii raat

dasht-e-tanhaa_ii me.n   ...







dasht-e-tanhaa_ii me.n ai jaan-e-jahaan larazaan hai
terii aavaaz ke saaye tere ho.nTho.n ke seraab