LyricsIndia.net

Hey, want to try making your own Karaoke from any youtube track? Check out some samples on our new beta website Pruthak (meaning: separate) which can split a track into vocals, drums, bass, piano!

गाना / Title: मुश्किल में है कौन किसी का - Mushkil Me Hai Kaun Kisi Ka (Angar)

चित्रपट / Film: Angaar

संगीतकार / Music Director: लक्ष्मीकांत - प्यारेलाल-(Laxmikant-Pyarelal)

गीतकार / Lyricist: आनंद बक्षी-(Anand Bakshi)

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)S P Balasubrahmaniam

शेअर करें / Share Page

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
बाला:
म ह्म्म ह्म्म म ह्म्म ह्म्म ह्म्म
ला ला ला, ला ला ला ला ओ हो हो ला ला ला ला
कोरस:
ला ला ला ला ला ल ल ला

बाला:
मुश्किल में है कौन किसी का, समझो इस राज़ को
मुश्किल में है कौन किसी का, समझो इस राज़ को
लेकर अपना नाम कभी तुम ख़ुद को आवाज़ दो
ला ला ला ला ए हे हे ला ला ला
मुश्किल में है कौन किसी का, समझो इस राज़ को
लेकर अपना नाम कभी तुम ख़ुद को आवाज़ दो
मुश्किल में है कौन किसी का

जीने का ना शौक़ रहे तो, क्या रक्खा है जीने में हाँ
जीने का ना शौक़ रहे तो, क्या रक्खा है जीने में
इक क़ैदी की तरह पड़ा है कब से ये दिल सीने में
पिंजड़े का दरवाज़ा तोड़ो, पंछी को परवाज़ दो
लेकर अपना नाम कभी तुम ख़ुद को आवाज़ दो
मुश्किल में है कौन किसी का समझो इस राज़ को
मुश्किल में है कौन किसी का

कोरस:
(ल ल ला ल र ल ला ला र ल ल ला ल ल ल ला)    (2)

बाला:
दोस्तो ये ज़िंदगी एक इम्तिहान है
दोस्तो ये ज़िंदगी एक इम्तिहान है
जीना तो मुश्किल है मरना आसान है, आसान है
ओ जीनेवालो ज़िंदगी को कोई अंदाज़ दो
लेकर अपना नाम कभी तुम ख़ुद को आवाज़ दो
मुश्किल में है कौन किसी का समझो इस राज़ को
मुश्किल में है कौन किसी का

कोरस:
आ आ आ आ आ आ आ आ आ आ आआ आ

बाला:
और नहीं तो कम से कम इतनी तो तकलीफ़ करो
और नहीं तो कम से कम इतनी तो तकलीफ़ करो
लोगों की तारीफ़ों में कभी अपनी भी तारीफ़ करो
सबसे तो तुम ख़ुश हो अपने आप से क्यूँ नाराज़ हो
लेकर अपना नाम कभी तुम ख़ुद को आवाज़ दो
मुश्किल में है कौन किसी का समझो इस राज़ को
लेकर अपना नाम कभी तुम ख़ुद को आवाज़ दो
ला ला ला ला ला ला ला ला रू रू रू 

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
baalaa:
m hmm hmm m hmm hmm hmm
laa laa laa, laa laa laa laa o ho ho laa laa laa laa
koras:
laa laa laa laa laa la la laa

baalaa:
mushkil me.n hai kaun kisii kaa, samajho is raaz ko
mushkil me.n hai kaun kisii kaa, samajho is raaz ko
lekar apanaa naam kabhii tum Kud ko aavaaz do
laa laa laa laa e he he laa laa laa
mushkil me.n hai kaun kisii kaa, samajho is raaz ko
lekar apanaa naam kabhii tum Kud ko aavaaz do
mushkil me.n hai kaun kisii kaa

jiine kaa naa shauq rahe to, kyaa rakkhaa hai jiine me.n haa.N
jiine kaa naa shauq rahe to, kyaa rakkhaa hai jiine me.n
ik qaidii kii tarah pa.Daa hai kab se ye dil siine me.n
pi.nja.De kaa daravaazaa to.Do, pa.nchhii ko parawaaz do
lekar apanaa naam kabhii tum Kud ko aavaaz do
mushkil me.n hai kaun kisii kaa samajho is raaz ko
mushkil me.n hai kaun kisii kaa

koras:
(la la laa la ra la laa laa ra la la laa la la la laa)    (2)

baalaa:
dosto ye zi.ndagii ek imtihaan hai
dosto ye zi.ndagii ek imtihaan hai
jiinaa to mushkil hai maranaa aasaan hai, aasaan hai
o jiinevaalo zi.ndagii ko ko_ii a.ndaaz do
lekar apanaa naam kabhii tum Kud ko aavaaz do
mushkil me.n hai kaun kisii kaa samajho is raaz ko
mushkil me.n hai kaun kisii kaa

koras:
aa aa aa aa aa aa aa aa aa aa aaaa aa

baalaa:
aur nahii.n to kam se kam itanii to takaliif karo
aur nahii.n to kam se kam itanii to takaliif karo
logo.n kii taariifo.n me.n kabhii apanii bhii taariif karo
sabase to tum Kush ho apane aap se kyuu.N naaraaz ho
lekar apanaa naam kabhii tum Kud ko aavaaz do
mushkil me.n hai kaun kisii kaa samajho is raaz ko
lekar apanaa naam kabhii tum Kud ko aavaaz do
laa laa laa laa laa laa laa laa ruu ruu ruu

कुछ और सुझाव / Related content: