गाना / Title: धडकन जरा रुक गयी है - Dhadkan Zara Ruk Gayi Hai

चित्रपट / Film: प्रहार-(Prahaar)

संगीतकार / Music Director: लक्ष्मीकांत - प्यारेलाल-(Laxmikant-Pyarelal)

गीतकार / Lyricist: Mangesh Kulkarni

गायक / Singer(s): सुरेश वाडकर-(Suresh Wadkar)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
धडकन जरा रुक गयी है, कहीं ज़िन्दगी बह रही है
पलकों में यादों की डोली, भीतर खुशी हंस रही है
ये खुशी तुम हो, तुम ही तुम  मेरी जानम करूँ ऐतबार

चेहरों के मेले में चेहरे थे गुम 
एक चेहरा था मैं, एक चेहरा थे तुम
जाने क्या तुम ने दे दिया
मुझ को जहां मिल गया

होठों पर बात रहे, बातों में सूर बहे
सुरों में गीत वही तुम्हारी ही बात कहे
मिट जाऊं सपनों की आगोश में
भीग जाऊं यादों की बौछार में

मिलते ही आँखों ने रिश्ता पहचाना
एहसास सीने में साँसों ने जाना
चुपके से प्यार छू गया
दिला के एक जनम नया

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
Dhadakan jara ruk gayi hai, kahin zindagi bah rahi hai
Palakon men yaadon ki doli, bhitar khushi hns rahi hai
Ye khushi tum ho, tum hi tum  meri jaanam karun aitabaar

Cheharon ke mele men chehare the gum 
Ek chehara tha main, ek chehara the tum
Jaane kya tum ne de diya
Mujh ko jahaan mil gaya

Hothhon par baat rahe, baaton men sur bahe
Suron men git wahi tumhaari hi baat kahe
Mit jaaun sapanon ki agosh men
Bhig jaaun yaadon ki bauchhaar men

Milate hi ankhon ne rishta pahachaana
Ehasaas sine men saanson ne jaana
Chupake se pyaar chhu gaya
Dila ke ek janam naya

Related content: