गाना / Title: तू हवा है फिजा है - Tu Hawa Hai Fiza Hai

चित्रपट / Film: फिजा-(Fizaa)

संगीतकार / Music Director: अन्नु मलिक-(Anu Malik)

गीतकार / Lyricist: गुलजार-(Gulzar)

गायक / Singer(s): सोनु निगम-(Sonu Nigam)अलका याज्ञिक-(Alka Yagnik)

शेअर करें / Share Page :

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
तू हवा है, फ़िज़ा है, ज़मीं की नहीं
तू घटा है, तो फिर क्यो बरसती नहीं
उड़ती रहती है तू पंछीयों की तरह, आ मेरे आशियाने में आ

मैं हवा हूँ कहीं भी ठहरती नहीं
रुक भी जाऊँ कहीं पर तो रहती नहीं
मैने तिनके उठाये हुये हैं परों पर, आशियाना नहीं मेरा

घने एक पेड़ से मुझे झोंका कोई ले के आया है
सुखे एक पत्ते की तरह, हवा ने हर तरफ उड़ाया है
आ ना आ, एक दफ़ा, इस जमीं से उठें, पाँव रखे हवापर, ज़रा सा उड़े
चल चले हम जहाँ कोई रस्ता ना हो
कोई रहता ना हो, कोई बसता ना हो
कहते हैं आँखों में मिलती है ऐसी जगह

तुम मिले तो क्यो लगा मुझे, खुद से मुलाकात हो गई
कुछ भी तो कहा नहीं मगर ज़िन्दगी से बात हो गई
आ ना आ, साथ बैठे ज़रा देर तो, हाथ थामे रहें और कुछ ना कहे
छू के देखे तो आँखों की खामोशियाँ
कितनी चुपचाप होती हैं सरगोशियाँ
सुनते हैं आँखों में होती है ऐसी सदा

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
Tu hawa hai, fija hai, jmin ki nahin
Tu ghata hai, to fir kyo barasati nahin
Udti rahati hai tu pnchhiyon ki tarah, a mere ashiyaane men a

Main hawa hun kahin bhi thhaharati nahin
Ruk bhi jaaun kahin par to rahati nahin
Maine tinake uthhaaye huye hain paron par, ashiyaana nahin mera

Ghane ek ped se mujhe jhonka koi le ke aya hai
Sukhe ek patte ki tarah, hawa ne har taraf udaaya hai
A na a, ek dafa, is jamin se uthhen, paanw rakhe hawaapar, jra sa ude
Chal chale ham jahaan koi rasta na ho
Koi rahata na ho, koi basata na ho
Kahate hain ankhon men milati hai aisi jagah

Tum mile to kyo laga mujhe, khud se mulaakaat ho gi
Kuchh bhi to kaha nahin magar zindagi se baat ho gi
A na a, saath baithhe jra der to, haath thaame rahen aur kuchh na kahe
Chhu ke dekhe to ankhon ki khaamoshiyaan
Kitani chupachaap hoti hain saragoshiyaan
Sunate hain ankhon men hoti hai aisi sada

Related content: