गाना / Title: तूफ़ान की रात - Toofan Ki Raat (Thakshak)

चित्रपट / Film: तक्षक-(Thakshak)

संगीतकार / Music Director: ए. आर. रहमान-(A. R. Rahman)

गीतकार / Lyricist: महबूब-(Mehboob)

गायक / Singer(s): Hema Sardesai

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
तूफ़ान की रात
जिस्मों में शोले बहकने की रात
जज़्बातों में घुट के जलने की रात
अंगारों पे है मचलाने की रात
ये है मोहब्बत की रात
गर्मी लहु की न ठण्डी पड़े
साँसों में साँसे
पिघलती रहें
ये है मोहब्बत की रात

पर्बत जैसा दिल ये आज भड़क उठेगा
अरमानों का लावा फूटेगा
मदहोशी छायेगी तो
हर बंदिश टूटेगी
माँ के जैसे तन ये पिघलेगा

हंगामे की शब् है
तन-मन में एक तड़प है
ये शबनम आग बनी है
जाने क्या रंग लाएगी ये रात
जोश में अब ये जवानी है
न समझेगी न मानेगी
ये ज़ालिम दीवानी है
और उस पे है कातिल सी ये रात
फिर साड़ी ही हदों को
आज तोड़ने की रात
जो चाहता है दिल
वो कर गुजरने की ये रात
है ज़न्जीरों के टूट कर
बिखरने की ये रात
ये रात ज़लज़लों की
हर खतरे से है
आज तो टकराने की ये रात
है हौसलों को
आज आज़मानें की ये रात
हर क़ैद को अब तोड़ के
निकलने की ये रात
ये रात ज़लज़लों की

इश्क़ में किसी के है
लुट जाने की ये रात
है जिस्म-ो-जान के
आज तो मिट जाने की ये रात
आज तो है रूह के
जाग उठने की ये रात.

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
Toofaan ki raat
Jismon mein shole bahakane ki raat
Jazbaaton mein ghut ke jalane ki raat
Angaaron pe hai machalane ki raat
Ye hai mohabbat ki raat
Garmi lahu ki na thandi pade
Saanson mein saanse
Pighalati rahen
Ye hai mohabbat ki raat

Parbat jaisa dil ye aaj bhadak uthega
Armaanon ka laava phootega
Madahoshi chhaayegi to
Har bandish tootegi
Mom ke jaise tan ye pighalega

Hangaame ki shab hai
Tan-man mein ek tadap hai
Ye shabanam aag bani hai
Jaane kya rang laayegi ye raat
Josh mein ab ye javaani hai
Na samajhegi na maanegi
Ye zaalim deevaani hai
Aur us pe hai qaatil si ye raat
Phir saari hi hadon ko
Aaj todane ki raat
Jo chaahata hai dil
Vo kar guzarane ki ye raat
Hai zanjeeron ke toot kar
Bikharane ki ye raat
Ye raat zalazalon ki
Har khatare se hai
Aaj to takaraane ki ye raat
Hai hausalon ko
Aaj aazamaanen ki ye raat
Har qaid ko ab tod ke
Nikalane ki ye raat
Ye raat zalazalon ki

Ishq mein kisi ke hai
Lut jaane ki ye raat
Hai jism-o-jaan ke
Aaj to mit jaane ki ye raat
Aaj to hai rooh ke
Jag uthane ki ye raat.

Related content: