गाना / Title: कर चले, हम फ़िदा, जान-ओ-तन साथियों - kar chale, ham fidaa, jaan-o-tan saathiyo.n

चित्रपट / Film: Haqeeqat

संगीतकार / Music Director: मदन मोहन-(Madan Mohan)

गीतकार / Lyricist: Kaifi Azmi

गायक / Singer(s): मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



(कर चले हम फ़िदा जान-ओ-तन साथियों 
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों        ) - (२)

साँस थमती गई नब्ज़ जमती गई
फिर भी बढ़ते कदम को न रुकने दिया
कट गये सर हमारे तो कुछ ग़म नहीं
सर हिमालय का हमने न झुकने दिया
मरते मरते रहा बाँकापन साथियों, अब तुम्हारे ...

ज़िंदा रहने के मौसम बहुत हैं मगर
जान देने की रुत रोज़ आती नहीं
हुस्न और इश्क़ दोनों को रुसवा करे 
वो जवानी जो खूँ में नहाती नहीं
बाँध लो अपने सर पर कफ़न साथियों, अब तुम्हारे ...

राह क़ुर्बानियों की न वीरान हो
तुम सजाते ही रहना नये क़ाफ़िले
फ़तह का जश्न इस जश्न के बाद है
ज़िंदगी मौत से मिल रही है गले
आज धरती बनी है दुल्हन साथियों, अब तुम्हारे ...

खींच दो अपने खूँ से ज़मीं पर लकीर
इस तरफ़ आने पाये न रावण कोई
तोड़ दो हाथ अगर हाथ उठने लगे
छूने पाये न सीता का दामन कोई
राम भी तुम तुम्हीं लक्ष्मण साथियों, अब तुम्हारे ...



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

(kar chale ham fidaa jaan-o-tan saathiyo.n 
ab tumhaare havaale vatan saathiyo.n        ) - (2)

saa.Ns thamatii ga_ii nabz jamatii ga_ii
phir bhii ba.Dhate kadam ko na rukane diyaa
kaT gaye sar hamaare to kuchh Gam nahii.n
sar himaalay kaa hamane na jhukane diyaa
marate marate rahaa baa.Nkaapan saathiyo.n, ab tumhaare ...

zi.ndaa rahane ke mausam bahut hai.n magar
jaan dene kii rut roz aatii nahii.n
husn aur ishq dono.n ko rusavaa kare 
vo javaanii jo khuu.N me.n nahaatii nahii.n
baa.Ndh lo apane sar par kafan saathiyo.n, ab tumhaare ...

raah qurbaaniyo.n kii na viiraan ho
tum sajaate hii rahanaa naye qaafile
fatah kaa jashn is jashn ke baad hai
zi.ndagii maut se mil rahii hai gale
aaj dharatii banii hai dulhan saathiyo.n, ab tumhaare ...

khii.nch do apane khuu.N se zamii.n par lakiir
is taraf aane paaye na raavaN koii
to.D do haath agar haath uThane lage
chhuune paaye na siitaa kaa daaman koii
raam bhii tum tumhii.n lakshmaN saathiyo.n, ab tumhaare ...