गाना / Title: जब से हम तुम बहारों में हो बैठे गुम नज़ारों में - jab se ham tum bahaaro.n me.n ho baiThe gum nazaaro.n me.n

चित्रपट / Film: Main Shaadi Karne Chala

संगीतकार / Music Director: चित्रगुप्त-(Chitragupt)

गीतकार / Lyricist: मजरूह सुलतान पुरी-(Majrooh)

गायक / Singer(s): मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi)Suman Kalyanpur

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



जब से हम तुम बहारों में हो बैठे गुम नज़ारों में
जैसे ये ज़िंदगी प्यासी आँखों का ख़्वाब है

होंठों पे प्यार की, मीठी सी रागिनी
चहरे पे आरज़ू की धीमी-धीमी रोशनी
मेरी धड़कन, तेरी बातें
तेरे जलवे, मेरी आँखें
जैसे ये रोशनी, जागी आँखों का ख़्वाब है

जो नैना मोड़ के, दो नैना जोड़ दे
जो इतना शोख है वो शर्माना भी छोड़ दे
ये शोखी सी निगाहों की
ये चोरी सी अदाओं की
जैसे ये दिल्लगी, जागी आँखों का ख़्वाब है



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

jab se ham tum bahaaro.n me.n ho baiThe gum nazaaro.n me.n
jaise ye zi.ndagii pyaasii aa.Nkho.n kaa Kvaab hai

ho.nTho.n pe pyaar kii, miiThii sii raaginii
chahare pe aarazuu kii dhiimii-dhiimii roshanii
merii dha.Dakan, terii baate.n
tere jalave, merii aa.Nkhe.n
jaise ye roshanii, jaagii aa.Nkho.n kaa Kvaab hai

jo nainaa mo.D ke, do nainaa jo.D de
jo itanaa shokh hai vo sharmaanaa bhii chho.D de
ye shokhii sii nigaaho.n kii
ye chorii sii adaao.n kii
jaise ye dillagii, jaagii aa.Nkho.n kaa Kvaab hai