गाना / Title: जहाँ में कोई नहीं है अपना - jahaa.N me.n ko_ii nahii.n hai apanaa

चित्रपट / Film: non-Film

संगीतकार / Music Director: Durga Sen

गीतकार / Lyricist: M A Qidwai

गायक / Singer(s): तलत महमूद-(Talat Mahmood)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



 
जहाँ  में  कोई  नहीं  है  अपना हर  एक  को ख़ूब  आज़्माया
हुई  करम  की  जहां  तवक़्क़ो, उसी  ने  जी  खोल  कर  सताया

किसी  की  बर्बाद ज़िन्दगी है, किसी  को  रोना है अपने दिल का
तुम्हीं बता दो बजुज़ ज़ियां के किसी ने क्या तुम से मिल के पया

हर एक  ज़र्रे  से  तुम  को पूछा, हर एक गोशे में दी सदाएं
पता तो दो कुछ कहाँ छुपे हो कि हर जगह तुम को ढूँढ आया

जो हाँ कहूँ उनपे हर्फ़ आए, नहीं जो कह दूँ तो मैं ही झूटा
सवाल  करते  हैं  वोह  मुझी  से, के  हम  ने  दिल  को तेरे दुखाया  




        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

 
jahaa.N  me.n  ko_ii  nahii.n  hai  apanaa har  ek  ko Kuub  aazmaayaa
hu_ii  karam  kii  jahaa.n  tavaqqo, usii  ne  jii  khol  kar  sataayaa

kisii  kii  barbaad zindagii hai, kisii  ko  ronaa hai apane dil kaa
tumhii.n bataa do bajuz ziyaa.n ke kisii ne kyaa tum se mil ke payaa

har ek  zarre  se  tum  ko puuchhaa, har ek goshe me.n dii sadaa_e.n
pataa to do kuchh kahaa.N chhupe ho ki har jagah tum ko Dhuu.NDh aayaa

jo haa.N kahuu.N unape harf aa_e, nahii.n jo kah duu.N to mai.n hii jhuuTaa
savaal  karate  hai.n  woh  mujhii  se, ke  ham  ne  dil  ko tere dukhaayaa