गाना / Title: मौसम है आशिक़ाना - mausam hai aashiqaanaa

चित्रपट / Film: Pakeezah

संगीतकार / Music Director: Ghulam Mohammad

गीतकार / Lyricist: Kamal Amrohi

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



मौसम है आशिक़ाना
ऐ दिल कहीं से उनको ऐसे में ढूँढ लाना

कहना के रुत जवां है, और हम तरस रहे हैं
काली घटा के साए, बिरहन को डँस रहे हैं
डर है न मार डाले (सावन का क्या ठिकाना) \- (२)
मौसम है ...

सूरज कहीं भी जाए, तुम पर न धूप आए
तुमको पुकारते हैं, इन गेसुओं के साए
आ जाओ मैं बना दूँ (पलकों का शामियाना) \- (२)
मौसम है ...

फ़िरते हैं हम अकेले, बांहों में कोई ले ले
आखिर कोई कहाँ तक, तनहाइयों से खेले
दिन हो गए हैं ज़ालिम (रातें हैं क़ातिलाना) \- (२)
मौसम है ...

ये रात ये खामोशी ये ख़्वाब से नज़ारे
जुग्नू हैं या ज़मीं पर, उतरे हुए हैं तारे
बेताब मेरी आँखें (मदहोष है ज़माना) \- (२)
मौसम है ...



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

mausam hai aashiqaanaa
ai dil kahii.n se unako aise me.n Dhuu.NDh laanaa

kahanaa ke rut javaa.n hai, aur ham taras rahe hai.n
kaalii ghaTaa ke saae, birahan ko Da.Ns rahe hai.n
Dar hai na maar Daale (saavan kaa kyaa Thikaanaa) \- (2)
mausam hai ...

suuraj kahii.n bhii jaae, tum par na dhuup aae
tumako pukaarate hai.n, in gesuo.n ke saae
aa jaao mai.n banaa duu.N (palako.n kaa shaamiyaanaa) \- (2)
mausam hai ...

firate hai.n ham akele, baa.nho.n me.n koii le le
aakhir koii kahaa.N tak, tanahaaiyo.n se khele
din ho gae hai.n zaalim (raate.n hai.n qaatilaanaa) \- (2)
mausam hai ...

ye raat ye khaamoshii ye Kvaab se nazaare
jugnuu hai.n yaa zamii.n par, utare hue hai.n taare
betaab merii aa.Nkhe.n (madahoshh hai zamaanaa) \- (2)
mausam hai ...