गाना / Title: डूब जाये जो क़िसमत का तारा - Duub jaaye jo qisamat kaa taaraa

चित्रपट / Film: Parchhain

संगीतकार / Music Director: सी. रामचंद्र-(C Ramchandra)

गीतकार / Lyricist: Noor Lucknowi

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          




डूब जाये
(डूब जाये जो क़िस्मत का तारा
कोई होता नहीं फिर सहारा) \-२
डूब जाये

ओ~ चाँद सूरज हो रोशन हमें क्या
ओ~ कोई फूलों का गुलशन हमें क्या
इस ? जीवन हमारा
डूब जाये ...

ऐसा उलझा है कांटों में दामन
अपनी परछैइं है अपनी दुश्मन
लाख तूफ़ान हैं
लाख तूफ़ान हैं और एक बेचारा
कोई होता नही फिर सहारा
डूब जाये ...

ओ रह गई आरज़ू नज़र में
ओ कटी अपनी दुनिया भँवर में
जब नज़र आ रहा था किनारा
कोई होता नहीं फिर सहारा
डूब जाये ...




        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      


Duub jaaye
(Duub jaaye jo qismat kaa taaraa
ko_ii hotaa nahii.n phir sahaaraa) \-2
Duub jaaye

o~ chaa.Nd suuraj ho roshan hame.n kyaa
o~ koii phuulo.n kaa gulashan hame.n kyaa
is ? jiivan hamaaraa
Duub jaaye ...

aisaa ulajhaa hai kaa.nTo.n me.n daaman
apanii parachhaii.n hai apanii dushman
laakh tuufaan hai.n
laakh tuufaan hai.n aur ek bechaaraa
ko_ii hotaa nahii phir sahaaraa
Duub jaaye ...

o rah ga_ii aarazuu nazar me.n
o kaTii apanii duniyaa bha.Nvar me.n
jab nazar aa rahaa thaa kinaaraa
ko_ii hotaa nahii.n phir sahaaraa
Duub jaaye ...