गाना / Title: पर्वतों से आज मैं टकरा गया, तुम ने दी आवाज़ लो मैं आ गया - parvato.n se aaj mai.n Takaraa gayaa, tum ne dii aavaaz lo mai.n aa gayaa

चित्रपट / Film: Betaab

संगीतकार / Music Director: राहुलदेव बर्मन-(R D Burman)

गीतकार / Lyricist: आनंद बक्षी-(Anand Bakshi)

गायक / Singer(s): Shabbir Kumar

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



प्रेमी हूँ पागल हूँ मैं, पागल हूँ मैं, पागल हूँ मैं 
रूप का सागर हूँ मैं, सागर हूँ मैं , सागर हूँ मैं 
प्यार का बादल हूँ मैं 
पर्वतों से आज मैं टकरा गया
तुम ने दी आवाज़ लो मैं आ गया (२) 

तुम बुलाओ मैं ना आऊं ऐसा हरजाई नहीं 
इतने दिन तुमको ही मेरी (२) याद तक आई नहीं 
आ गया जादू का मौसम आ गया 
तुम ने दी आवाज़ लो मैं आ गया 
हो हो पर्वतों से आज मैं टकरा गया
तुम ने दी आवाज़ लो मैं आ गया 

उम्र ही ऐसी है कुछ ये तुम किसी से पूछ लो 
एक साथी की ज़रूरत (२) पड़ती है हर एक को 
दिल तुम्हारा इस लिये घबरा गया 
तुम ने दी आवाज़ लो मैं आ गया 
हो हो पर्वतों से आज मैं टकरा गया
तुम ने दी आवाज़ लो मैं आ गया 

खोल कर इन बन्द आँखों को झरोखों की तरह 
चोर आवारा हवा के मस्त झोंकों की तरह 
रेशमी ज़ुल्फ़ों को मैं बिखरा गया 
तुमने दी आवाज़ लो मैं आ गया 
हो हो हो पर्वतों से आज मैं टकरा गया ...



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

premii huu.N paagal huu.N mai.n, paagal huu.N mai.n, paagal huu.N mai.n 
ruup kA saagar huu.N mai.n, saagar huu.N mai.n , saagar huu.N mai.n 
pyaar kA bAdal huu.N mai.n 
parvato.n se aaj mai.n Takaraa gayaa
tum ne dii aavaaz lo mai.n aa gayaa (2) 

tum bulaao mai.n nA aa_uu.n aisA harajaaI nahii.n 
itane din tumako hii merI (2) yaad tak aa_ii nahii.n 
aa gayaa jaaduu kA mausam aa gayaa 
tum ne dii aavaaz lo mai.n aa gayaa 
ho ho parvato.n se aaj mai.n Takaraa gayaa
tum ne dii aavaaz lo mai.n aa gayaa 

umr hii aisI hai kuchh ye tum kisii se pUchh lo 
ek saathii kii zaruurat (2) pa.Datii hai har ek ko 
dil tumhaaraa is liye ghabaraa gayaa 
tum ne dii aavaaz lo mai.n aa gayaa 
ho ho parvato.n se aaj mai.n Takaraa gayaa
tum ne dii aavaaz lo mai.n aa gayaa 

khol kar in band aa.Nkho.n ko jharokho.n kii tarah 
chor aavaaraa havaa ke mast jho.nko.n kii tarah 
reshamii zulfo.n ko mai.n bikharA gayaa 
tumane dii aavaaz lo mai.n aa gayaa 
ho ho ho parvato.n se aaj mai.n Takaraa gayaa ...