गाना / Title: दिल की चोटों ने कभी चैन से रहने न दिया - dil kii choTo.n ne kabhii chain se rahane na diyaa

चित्रपट / Film: गैर फ़िल्म-(Non-Film)

संगीतकार / Music Director:

गीतकार / Lyricist: Zosh

गायक / Singer(s): Ghulam Ali

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



दिल की चोटों ने कभी चैन से रहने न दिया
जब चली सर्द हवा मैंने तुझे याद किया

ये मैं सौ जाँ से तिरे तर्ज़\-ए\-तक़ल्लुम के निसार
फिर तो फ़र्माइये क्या आपने इरशाद किया

इसका रोना नहीं क्यों तुमने किया दिल बरबाद
इसका ग़म है कि बहुत देर से बरबाद किया

इतना मानूस हूँ फ़ितरत से कली जब चटकी
झुक के मैंने ये कहा मुझसे कुछ इर्शाद किया

मेरी हर साँस है इस बात की शाहिद ऐ मौत
मैंने हर लुत्फ़ के मौक़े पे तुझे याद किया

मुझको तो होश नहीं तुमको ख़बर हो शायद
लोग कहते हैं कि तुमने मुझे बरबाद किया

कुछ नहीं इसके सिवा 'जोश' हरीफ़ों का कलाम
वस्ल ने शाद किया हिज्र ने ना\-शाद किया



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

dil kii choTo.n ne kabhii chain se rahane na diyaa
jab chalii sard hawaa mai.nne tujhe yaad kiyaa

ye mai.n sau jaa.N se tire tarz\-e\-taqallum ke nisaar
phir to farmaa_iye kyaa aapane irashaad kiyaa

isakaa ronaa nahii.n kyo.n tumane kiyaa dil barabaad
isakaa Gam hai ki bahut der se barabaad kiyaa

itanaa maanuus huu.N fitarat se kalii jab chaTakii
jhuk ke mai.nne ye kahaa mujhase kuchh irshaad kiyaa

merii har saa.Ns hai is baat kii shaahid ai maut
mai.nne har lutf ke mauqe pe tujhe yaad kiyaa

mujhako to hosh nahii.n tumako Kabar ho shaayad
log kahate hai.n ki tumane mujhe barabaad kiyaa

kuchh nahii.n isake siwaa 'josh' hariifo.n kaa kalaam
wasl ne shaad kiyaa hijr ne naa\-shaad kiyaa