गाना / Title: कोई अटका हुआ है पल शायद - ko_ii aTakaa hu_aa hai pal shaayad

चित्रपट / Film: Visaal (Non-Film)

संगीतकार / Music Director:

गीतकार / Lyricist: गुलजार-(Gulzar)

गायक / Singer(s): Ghulam Ali

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



कोई अटका हुआ है पल शायद
वक़्त में पड़ गया है बल शायद

आ रही है जो चाप क़दमों की
खिल रहे हैं कहीं कँवल शायद

दिल अगर है तो दर्द भी होगा
इसका कोई नहीं है हल शायद

राख़ को भी कुरेद कर देखो
अब भी जलता हो कोई पल शायद



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

ko_ii aTakaa hu_aa hai pal shaayad
waqt me.n pa.D gayaa hai bal shaayad

aa rahii hai jo chaap qadamo.n kii
khil rahe hai.n kahii.n ka.Nwal shaayad

dil agar hai to dard bhii hogaa
isakaa ko_ii nahii.n hai hal shaayad

raaK ko bhii kured kar dekho
ab bhii jalataa ho ko_ii pal shaayad