गाना / Title: ये मर्द बड़े दिल सर्द बड़े बेदर्द - ye mard ba.De dil sard ba.De bedard

चित्रपट / Film: Miss Mary

संगीतकार / Music Director: हेमंत कुमार-(Hemant Kumar)

गीतकार / Lyricist: Rajinder Krishan

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



ये मर्द बड़े दिल सर्द बड़े बेदर्द न धोखा खाना
मीठी मीठी बतियों में भूल के न आना

होते हैं छोटे दिल के लम्बी ज़ुबान वाले
देते हैं माल खोटा ऊँची दुकान वाले
छोटा मुँह और बात बड़ी ये है दस्तूर पुराना
मीठी मीठी बतियों में भूल के न आना   ...

बात पते की है ये मानो जो मेरा कहना
अच्छा है आग से तो दूर ही दूर रहना
झूठी इनकी जात बड़ी ये है दस्तूर पुराना
मीठी मीठी बतियों में भूल के न आना   ...

Rafi version 
ये मर्द बड़े दिल सर्द बड़े बेदर्द चलो जी माना
मर्दों का फिर भी ग़ुलाम है ज़माना   ...

दुनिया के साथ चलो नया ज़माना है ये
मर्दों को दोश देना राग पुराना है ये
झूठी इनकी जात कहो या कहो इन्हें दीवाना
मर्दों का फिर भी ग़ुलाम है ज़माना   ...

गुस्सा गुरूर लड़ना नारी की भूल है ये
ठण्डा मिजाज़ रखना पहला उसूल है ये
बात पते की कहता हूँ तुम चाहे कहो दीवाना
मर्दों का फिर भी ग़ुलाम है ज़माना   ...



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

ye mard ba.De dil sard ba.De bedard na dhokhaa khaanaa
miiThii miiThii batiyo.n me.n bhuul ke na aanaa

hote hai.n chhoTe dil ke lambii zubaan vaale
dete hai.n maal khoTaa uu.Nchii dukaan vaale
chhoTaa mu.Nh aur baat ba.Dii ye hai dastuur puraanaa
miiThii miiThii batiyo.n me.n bhuul ke na aanaa   ...

baat pate kii hai ye maano jo meraa kahanaa
achchhaa hai aag se to duur hii duur rahanaa
jhuuThii inakii jaat ba.Dii ye hai dastuur puraanaa
miiThii miiThii batiyo.n me.n bhuul ke na aanaa   ...

## Rafi version ##
ye mard ba.De dil sard ba.De bedard chalo jii maanaa
mardo.n kaa phir bhii Gulaam hai zamaanaa   ...

duniyaa ke saath chalo nayaa zamaanaa hai ye
mardo.n ko dosh denaa raag puraanaa hai ye
jhuuThii inakii jaat kaho yaa kaho inhe.n diivaanaa
mardo.n kaa phir bhii Gulaam hai zamaanaa   ...

gussaa guruur la.Danaa naarii kii bhuul hai ye
ThaNDaa mijaaz rakhanaa pahalaa usuul hai ye
baat pate kii kahataa huu.N tum chaahe kaho diivaanaa
mardo.n kaa phir bhii Gulaam hai zamaanaa   ...