गाना / Title: रातें गईं बातें गईं ... और तुझसे कुछ हो ना हो - raate.n ga_ii.n baate.n ga_ii.n ... aur tujhase kuchh ho naa ho

चित्रपट / Film: Heraa Pheri

संगीतकार / Music Director: अनु मलिक-(Annu Malik)

गीतकार / Lyricist: समीर-(Sameer)

गायक / Singer(s): Abhijitहरीहरन-(Hariharan)Vinod Rathor

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



रातें गईं बातें गईं जो भी हुआ भूल जा
अब तू नए परिवेश में दुनिया नई फिर बसा
सूरज नया निकले अगर आसान हो उसका सफ़र
काटे तेरी वारिस जिसे वो फ़सलें बो सकता है
और तुझसे कुछ हो ना हो ये तुझसे हो सकता है
हम्बा लिला हम्बा लिलो हम्बा लिले
चुकुमा तुकुमा तुकुमा चुकुमा चुकुमा चिले
आज हम हैं कल हम नहीं कल कुछ भी खो सकता है
प्यार दे प्यार ले ये एक दौलत है तू सबको दे सकता है
और तुझसे कुछ हो ...

सच कह रहा है ऐ बेखबर कर ले मेरा ऐतबार
ये ज़िंदगी नेमत ख़ुदा की मिलती है बस एक बार
यूं ही इसे खोना नहीं फिर बाद में रोना नहीं
साँसें तेरी हैं इक लड़ी इनको पिरो सकता है
और तुझसे कुछ हो ...

बंगलोंं में है महलों में है पर नींद आती नहीं
दौलत का इक सागर मिला पर प्यास जाती नहीं
भूखा है जो बदनाम है संतोष में आराम है
गर चैन हो दिल में तेरे धरती पे सो सकता है
और तुझसे कुछ हो ...

ये आदमी उस आदमी जैसा नहीं है तो क्या
अरे कुछ करने की ताक़त तो है पैसा नहीं है तो क्या
जिसने कहा सच ही कहा ये वक़्त ना इक सा रहा
किस्मत कहे मेहनत से तू हर दाग धो सकता है
और तुझसे कुछ हो ...



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

raate.n ga_ii.n baate.n ga_ii.n jo bhii hu_aa bhuul jaa
ab tuu na_e parivesh me.n duniyaa na_ii phir basaa
suuraj nayaa nikale agar aasaan ho usakaa safar
kaaTe terii vaaris jise vo fasale.n bo sakataa hai
aur tujhase kuchh ho naa ho ye tujhase ho sakataa hai
hambaa lilaa hambaa lilo hambaa lile
chukumaa tukumaa tukumaa chukumaa chukumaa chile
aaj ham hai.n kal ham nahii.n kal kuchh bhii kho sakataa hai
pyaar de pyaar le ye ek daulat hai tuu sabako de sakataa hai
aur tujhase kuchh ho ...

sach kah rahaa hai ai bekhabar kar le meraa aitabaar
ye zi.ndagii nemat Kudaa kii milatii hai bas ek baar
yuu.n hii ise khonaa nahii.n phir baad me.n ronaa nahii.n
saa.Nse.n terii hai.n ik la.Dii inako piro sakataa hai
aur tujhase kuchh ho ...

ba.ngalo.n.n me.n hai mahalo.n me.n hai par nii.nd aatii nahii.n
daulat kaa ik saagar milaa par pyaas jaatii nahii.n
bhuukhaa hai jo badanaam hai sa.ntoSh me.n aaraam hai
gar chain ho dil me.n tere dharatii pe so sakataa hai
aur tujhase kuchh ho ...

ye aadamii us aadamii jaisaa nahii.n hai to kyaa
are kuchh karane kii taaqat to hai paisaa nahii.n hai to kyaa
jisane kahaa sach hii kahaa ye vaqt naa ik saa rahaa
kismat kahe mehanat se tuu har daag dho sakataa hai
aur tujhase kuchh ho ...