गाना / Title: सज़ा मिली है किसी से ये दिल लगाने की - sazaa milii hai kisii se ye dil lagaane kii

चित्रपट / Film: Kamal Ke Phool

संगीतकार / Music Director: Shyamsunder

गीतकार / Lyricist: Rajinder Krishan

गायक / Singer(s): Suraiyya

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



सज़ा मिली है किसी से ये दिल लगाने की \-२
हँसी उड़ाती है दुनिया मेरे फ़साने की
सज़ा मिली है किसी से ये दिल लगाने की
सज़ा मिली

( ख़ुशी से खेलने वाला
ज़माना क्या जाने ) \-२
किसी ग़रीब को हसरत है
मुस्कुराने की

सज़ा मिली है किसी से ये दिल लगाने की
सज़ा मिली

( कुछ और ग़म भी बचें हो
तो दे\-दे ऐ क़िसमत ) \-२
कि अब तो मुझको भी आदत है
ग़म उठाने की

सज़ा मिली है किसी से ये दिल लगाने की
हँसी उड़ाती है दुनिया मेरे फ़साने की
सज़ा मिली है किसी से ये दिल लगाने की
सज़ा मिली



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

sazaa milii hai kisii se ye dil lagaane kii \-2
ha.Nsii u.Daatii hai duniyaa mere fasaane kii
sazaa milii hai kisii se ye dil lagaane kii
sazaa milii

( Kushii se khelane waalaa
zamaanaa kyaa jaane ) \-2
kisii Gariib ko hasarat hai
muskuraane kii

sazaa milii hai kisii se ye dil lagaane kii
sazaa milii

( kuchh aur Gam bhii bache.n ho
to de\-de ai qisamat ) \-2
ki ab to mujhako bhii aadat hai
Gam uThaane kii

sazaa milii hai kisii se ye dil lagaane kii
ha.Nsii u.Daatii hai duniyaa mere fasaane kii
sazaa milii hai kisii se ye dil lagaane kii
sazaa milii