गाना / Title: ऐ वतन के नौजवानों जाग और जगा के चल - ai vatan ke naujavaano.n jaag aur jagaa ke chal

चित्रपट / Film: Baaz

संगीतकार / Music Director: ओ. पी. नय्यर-(O P Nayyar)

गीतकार / Lyricist: मजरूह सुलतान पुरी-(Majrooh)

गायक / Singer(s): Geetachorus

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



ओ ओ आ
हर ज़बां रुकी रुकी, हर नज़र झुकी झुकी
क्या यही है ज़िंदगी, क्या यही है ज़िंदगी

ऐ वतन के नौजवानों, जाग और जगा के चल	\- २
(कोरस: जाग और जगा के चल)
ज़ुल्म जिस कदर बढ़े, और सर उठा के चल
(कोरस: जाग और जगा के चल)

(काम्प है तेरी नज़र, उनके दिल में चोर है
 उन में बल है, तेरे भी बाज़ुओं ज़ोर है)		\- २
ज़ालिमों का हुरूर ख़ाक में मिला के चल
ऐ वतन के नौजवानों ...

(क्या समंदरों का शोर, और भँवर की चाल है
 तेरे आगे सर उठाए, मौज की मजाल क्या)		\- २
खोल ज़िंदगी की नाव, बादबां उड़ा के चल
ऐ वतन के नौजवानों ...

(कारवां वतन का आज डाकुओं में घिर गया
 ज़ुल्म के अंधेरे में आ रही है इस सदा)		\- २
इंतेक़ाम का मशाल हाथ में जला के चल

कोरस: इंतेक़ाम, इंतेक़ाम, इंतेक़ाम



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

o o aa
har zabaa.n rukii rukii, har nazar jhukii jhukii
kyaa yahii hai zi.ndagii, kyaa yahii hai zi.ndagii

ai vatan ke naujavaano.n, jaag aur jagaa ke chal	\- 2
(koras: jaag aur jagaa ke chal)
zulm jis kadar ba.Dhe, aur sar uThaa ke chal
(koras: jaag aur jagaa ke chal)

(kaamp hai terii nazar, unake dil me.n chor hai
 un me.n bal hai, tere bhii baazuo.n zor hai)		\- 2
zaalimo.n kaa huruur Kaak me.n milaa ke chal
ai vatan ke naujavaano.n ...

(kyaa sama.ndaro.n kaa shor, aur bha.Nvar kii chaal hai
 tere aage sar uThaae, mauj kii majaal kyaa)		\- 2
khol zi.ndagii kii naav, baadabaa.n u.Daa ke chal
ai vatan ke naujavaano.n ...

(kaaravaa.n vatan kaa aaj Daakuo.n me.n ghir gayaa
 zulm ke a.ndhere me.n aa rahii hai is sadaa)		\- 2
i.nteqaam kaa mashaal haath me.n jalaa ke chal

koras: i.nteqaam, i.nteqaam, i.nteqaam