गाना / Title: तूने ये फूल जो ज़ुल्फ़ों में सजा रखा है - tuune ye phuul jo zulfo.n me.n sajaa rakhaa hai

चित्रपट / Film: Golden Greatest of Mehdi Hassan (Non-Film)

संगीतकार / Music Director:

गीतकार / Lyricist: Qateel Shifai

गायक / Singer(s): Mehdi Hasan

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



तूने ये फूल जो ज़ुल्फ़ों में सजा रखा है
इक दिया है जो अंधेरों में जला रखा है

जीत ले जाये कोई मुझको नसीबों वाला
ज़िंदगी ने मुझे दाँव पे लगा रखा है

जाने कब दिल में कोई झाँकने वाला आ जाये
इस लिये मैंने गिरेबान खुला रखा है

इम्तिहाँ और मेरे ज़ब्त का तुम क्या लोगे
मैंने धड़कन को भी सीने में छुपा रखा है

दिल था इक शोला मगर बीत गये दिन वो 'क़तील'
अब कुरेदो ना इसे राख़ में क्या रखा है



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

tuune ye phuul jo zulfo.n me.n sajaa rakhaa hai
ik diyaa hai jo a.ndhero.n me.n jalaa rakhaa hai

jiit le jaaye ko_ii mujhako nasiibo.n waalaa
zi.ndagii ne mujhe daa.Nv pe lagaa rakhaa hai

jaane kab dil me.n ko_ii jhaa.Nkane waalaa aa jaaye
is liye mai.nne girebaan khulaa rakhaa hai

imtihaa.N aur mere zabt kaa tum kyaa loge
mai.nne dha.Dakan ko bhii siine me.n chhupaa rakhaa hai

dil thaa ik sholaa magar biit gaye din wo 'qatiil'
ab kuredo naa ise raaK me.n kyaa rakhaa hai