गाना / Title: फूल आहिस्ता फेंको, फूल बड़े नाज़ुक होते हैं - phuul aahistaa phe.nko, phuul ba.De naazuk hote hai.n

चित्रपट / Film: Prem Kahani

संगीतकार / Music Director: लक्ष्मीकांत - प्यारेलाल-(Laxmikant-Pyarelal)

गीतकार / Lyricist: आनंद बक्षी-(Anand Bakshi)

गायक / Singer(s): मुकेश-(Mukesh)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          




फूल आहिस्ता फेंको, फूल बड़े नाज़ुक होते हैं
वैसे भी तो ये बद्\-क़िसमत नोक पे कांटों की सोते हैं
फूल आहिस्ता   ...

बड़ी खूब्सूरत शिक़ायत है ये
मगर सोचिये क्या शराफ़त है ये
जो औरों का दिल तोड़ते रहते हैं
लगी चोट उनको तो ये कहते हैं
कि फूल आहिस्ता फेंको, फूल बड़े नाज़ुक होते हैं
जो रुलाते हैं लोगों को एक दिन खुद भी रोते हैं
फूल आहिस्ता   ...

किसी शोख़ को बाग़ की सैर में
जो लग जाये कांटा कोई पैर में
ख़फ़ा हुस्न वालों से हो किस लिये
ये मासूम है बहकता इस लिये
कि फूल आहिस्ता फेंको, फूल बड़े नाज़ुक होते हैं
ये करेंगे कैसे घायल ये तो खुद घायल होते हैं
फूल आहिस्ता   ...

गुलों के बड़े आप हमदर्द हैं
भला क्यों न हो आप भी मर्द हैं
हज़ारों सवाल.ओं का है इक जवाब
फ़रेब\-ए\-नज़र ये न हो ऐ जनाब
कि फूल आहिस्ता फेंको फूल बड़े नाज़ुक होते हैं
सब जिसे कहते हैं शबनम, फूल के आँसू होते हैं
फूल आहिस्ता   ...




        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      


phuul aahistaa phe.nko, phuul ba.De naazuk hote hai.n
vaise bhii to ye bad.h\-qisamat nok pe kaa.nTo.n kii sote hai.n
phuul aahistaa   ...

ba.Dii khuubsuurat shiqaayat hai ye
magar sochiye kyaa sharaafat hai ye
jo auro.n kaa dil to.Date rahate hai.n
lagii choT unako to ye kahate hai.n
ki phuul aahistaa phe.nko, phuul ba.De naazuk hote hai.n
jo rulaate hai.n logo.n ko ek din khud bhii rote hai.n
phuul aahistaa   ...

kisii shoK ko baaG kii sair me.n
jo lag jaaye kaa.nTaa koii pair me.n
Kafaa husn vaalo.n se ho kis liye
ye maasuum hai bahakataa is liye
ki phuul aahistaa phe.nko, phuul ba.De naazuk hote hai.n
ye kare.nge kaise ghaayal ye to khud ghaayal hote hai.n
phuul aahistaa   ...

gulo.n ke ba.De aap hamadard hai.n
bhalaa kyo.n na ho aap bhii mard hai.n
hazaaro.n savaal.o.n kaa hai ik javaab
fareb\-e\-nazar ye na ho ai janaab
ki phuul aahistaa phe.nko phuul ba.De naazuk hote hai.n
sab jise kahate hai.n shabanam, phuul ke aa.Nsuu hote hai.n
phuul aahistaa   ...