गाना / Title: चिट्ठी आई है आई है चिट्ठी आई है - chiTThii aaii hai aaii hai chiTThii aaii hai

चित्रपट / Film: Naam

संगीतकार / Music Director: लक्ष्मीकांत - प्यारेलाल-(Laxmikant-Pyarelal)

गीतकार / Lyricist: Anand Bakshi ?

गायक / Singer(s): Pankaj Udhas

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



चिट्ठी आई है आई है चिट्ठी आई है \-२
चिट्ठी है वतन से चिट्ठी आयी है
बड़े दिनों के बाद, हम बेवतनों को याद \-२
वतन की मिट्टी आई है, चिट्ठी आई है ...

ऊपर मेरा नाम लिखा हैं, अंदर ये पैगाम लिखा हैं \-२
ओ परदेस को जाने वाले, लौट के फिर ना आने वाले
सात समुंदर पार गया तू, हमको ज़िंदा मार गया तू
खून के रिश्ते तोड़ गया तू, आँख में आँसू छोड़ गया तू
कम खाते हैं कम सोते हैं, बहुत ज़्यादा हम रोते हैं, चिट्ठी ...

सूनी हो गईं शहर की गलियाँ, कांटे बन गईं बाग की कलियाँ \-२
कहते हैं सावन के झूले, भूल गया तू हम नहीं भूले
तेरे बिन जब आई दीवाली, दीप नहीं दिल जले हैं खाली
तेरे बिन जब आई होली, पिचकारी से छूटी गोली
पीपल सूना पनघट सूना घर शमशान का बना नमूना \-२
फ़सल कटी आई बैसाखी, तेरा आना रह गया बाकी, चिट्ठी ...

पहले जब तू ख़त लिखता था कागज़ में चेहरा दिखता था \-२
बंद हुआ ये मेल भी अब तो, खतम हुआ ये खेल भी अब तो
डोली में जब बैठी बहना, रस्ता देख रहे थे नैना \-२
मैं तो बाप हूँ मेरा क्या है, तेरी माँ का हाल बुरा है
तेरी बीवी करती है सेवा, सूरत से लगती हैं बेवा
तूने पैसा बहुत कमाया, इस पैसे ने देश छुड़ाया
पंछी पिंजरा तोड़ के आजा, देश पराया छोड़ के आजा
आजा उमर बहुत है छोटी, अपने घर में भी हैं रोटी, चिट्ठी ...



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

chiTThii aaii hai aaii hai chiTThii aaii hai \-2
chiTThii hai vatan se chiTThii aayii hai
ba.De dino.n ke baad, ham bevatano.n ko yaad \-2
vatan kii miTTii aaii hai, chiTThii aaii hai ...

uupar meraa naam likhaa hai.n, a.ndar ye paigaam likhaa hai.n \-2
o parades ko jaane vaale, lauT ke phir naa aane vaale
saat samu.ndar paar gayaa tuu, hamako zi.ndaa maar gayaa tuu
khuun ke rishte to.D gayaa tuu, aa.Nkh me.n aa.Nsuu chho.D gayaa tuu
kam khaate hai.n kam sote hai.n, bahut zyaadaa ham rote hai.n, chiTThii ...

suunii ho gaI.n shahar kii galiyaa.N, kaa.nTe ban gaI.n baag kii kaliyaa.N \-2
kahate hai.n saavan ke jhuule, bhuul gayaa tuu ham nahii.n bhuule
tere bin jab aaii diivaalii, diip nahii.n dil jale hai.n khaalI
tere bin jab aaii holii, pichakaarii se chhuuTii golii
piipal suunaa panaghaT suunaa ghar shamashaan kaa banaa namuunaa \-2
fasal kaTii aaii baisaakhii, teraa aanaa rah gayaa baakii, chiTThii ...

pahale jab tuu Kat likhataa thaa kaagaz me.n cheharaa dikhataa thaa \-2
ba.nd huaa ye mel bhii ab to, khatam huaa ye khel bhii ab to
Dolii me.n jab baiThii bahanaa, rastaa dekh rahe the nainaa \-2
mai.n to baap huu.N meraa kyaa hai, terii maa.N kaa haal buraa hai
terii biivii karatii hai sevaa, suurat se lagatii hai.n bevaa
tuune paisaa bahut kamaayaa, is paise ne desh chhu.Daayaa
pa.nchhii pi.njaraa to.D ke aajaa, desh paraayaa chho.D ke aajaa
aajaa umar bahut hai chhoTii, apane ghar me.n bhii hai.n roTii, chiTThii ...