गाना / Title: कहाँ हो तुम, ज़रा आवाज़ दो, हम याद करते हैं - kahaa.N ho tum, zaraa aavaaz do, ham yaad karate hai.n

चित्रपट / Film: Malhaar

संगीतकार / Music Director: Roshan

गीतकार / Lyricist: Kaif Irfani

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)मुकेश-(Mukesh)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



कहाँ हो तुम, ज़रा आवाज़ दो, हम याद करते हैं
कभी भरते हैं आहें और कभी फ़रियाद करते हैं
कहाँ हो तुम ...

जुदा बुलबुल है अपने फूल से और रो के कहती है
सारी दुनिया दिया वो ज़ुल्म हो सय्याद करते हैं
कहाँ हो तुम ...

जहाँ हैं और अब जिस हाल में हैं, हम तुम्हारे हैं
तुम्ही आबाद हो दिल में, तुम्ही को याद करते हैं
कहाँ हो तुम ...

हमारी बेबसी ये है कि हम कुछ कह नहीं सकते
वफ़ा बदनाम होती है अगर फ़रियाद करते हैं
कहाँ हो तुम ...

तेरे कदमों में रहने की तमन्ना दिल में रखते हैं
जुदा दुनिया ने हमको कर दिया फ़रियाद करते हैं
कहाँ हो तुम ...



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

kahaa.N ho tum, zaraa aavaaz do, ham yaad karate hai.n
kabhii bharate hai.n aahe.n aur kabhii fariyaad karate hai.n
kahaa.N ho tum ...

judaa bulabul hai apane phuul se aur ro ke kahatii hai
saarii duniyaa diyaa vo zulm ho sayyaad karate hai.n
kahaa.N ho tum ...

jahaa.N hai.n aur ab jis haal me.n hai.n, ham tumhaare hai.n
tumhii aabaad ho dil me.n, tumhii ko yaad karate hai.n
kahaa.N ho tum ...

hamaarii bebasii ye hai ki ham kuchh kah nahii.n sakate
vafaa badanaam hotii hai agar fariyaad karate hai.n
kahaa.N ho tum ...

tere kadamo.n me.n rahane kii tamannaa dil me.n rakhate hai.n
judaa duniyaa ne hamako kar diyaa fariyaad karate hai.n
kahaa.N ho tum ...