गाना / Title: वो अपनी याद दिलाने को - vo apanii yaad dilaane ko

चित्रपट / Film: Jugnu

संगीतकार / Music Director: Firoz Nizami

गीतकार / Lyricist: Azir Sarhadi

गायक / Singer(s): मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi)chorus

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          




वो अपनी याद दिलाने को 
इक इश्क़ कि दुनिया छोड़ गये
जलदी मेन लिपिस्टिक भूल गये 
रूमाल पुराना छोड़ गये

आशिक़ जो हुए थे हम उनपर
दिन\-रात लगाते थे चक्कर
सब कुछ तो बताया हम ने मगर
पिट जाने का क़िस्सा छोड़ गये

दौलत का हमें अरमान रहा     
इस इश्क़ में भी नुक़सान रहा
दो आने का भी जो बिक न सका 
पीतल का वो बुन्दा छोड़ गए

मुफ़लिस थे जनाब\-ए\-मजनूँ भी 
सुनते हैं जब उनकी मौत आई
पाकिट से न निकली इक पाई
लैल का वो कुत्ता छोड़ गये

जीने से हैं हम अपने ख़फ़ा     
और मरने से है डर लगता
थे मर्द जिन्हों ने ज़हर पिया
आराम से दुनिया छोड़ गये

तलवार दिखा कर हम ने कहा
करती हो हमें तुम क्यों रुसवा
सुन लोगी किसी दिन मुरली\-धर
इस इश्क़ में दुनिया छोड़ गये




        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      


vo apanii yaad dilaane ko 
ik ishq ki duniyaa chho.D gaye
jaladii men lipisTik bhuul gaye 
ruumaal puraanaa chho.D gaye

aashiq jo hu_e the ham unapar
din\-raat lagaate the chakkar
sab kuchh to bataayaa ham ne magar
piT jaane kaa qissaa chho.D gaye

daulat kaa hame.n aramaan rahaa     
is ishq me.n bhii nuqasaan rahaa
do aane kaa bhii jo bik na sakaa 
piital kaa vo bundaa chho.D gae

mufalis the janaab\-e\-majanuu.N bhii 
sunate hai.n jab unakii maut aa_ii
paakiT se na nikalii ik paa_ii
laila kaa vo kuttaa chho.D gaye

jiine se hai.n ham apane Kafaa     
aur marane se hai Dar lagataa
the mard jinho.n ne zahar piyaa
aaraam se duniyaa chho.D gaye

talawaar dikhaa kar ham ne kahaa
karatii ho hame.n tum kyo.n rusavaa
sun logii kisii din muralii\-dhar
is ishq me.n duniyaa chho.D gaye