गाना / Title: कभी तो मिलेगी, कहीं तो मिलेगी - kabhii to milegii, kahii.n to milegii

चित्रपट / Film: Aarti

संगीतकार / Music Director: Roshan

गीतकार / Lyricist: मजरूह सुलतान पुरी-(Majrooh)

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



              
कभी तो मिलेगी, कहीं तो मिलेगी
बहारों की मंज़िल राही
बहारों की मंज़िल राही   ...

लम्बी सही दर्द की राहें
दिल की लगन से काम ले
आँखों के इस तूफ़ाँ को पी जा
आहों के बादल थाम ले
दूर तो है पर, दूर नहीं है
नज़ारों की मंज़िल राहि
बहारों की मंज़िल राही   ...

आ हा हा हा, ल ला, ला ल ल, अह हा हा ह ह

माना कि है गहरा अन्धेरा
गुम है डगर की चाँदनी
मैली न हो धुँधली पड़े न
देख नज़र की चाँदनी
डाले हुए है, रात की चादर
सितारों की मंज़िल राही
बहारों की मंज़िल राही   ...




        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

              
kabhii to milegii, kahii.n to milegii
bahaaro.n kii ma.nzil raahii
bahaaro.n kii ma.nzil raahii   ...

lambii sahii dard kii raahe.n
dil kii lagan se kaam le
aa.Nkho.n ke is tuufaa.N ko pii jaa
aaho.n ke baadal thaam le
duur to hai par, duur nahii.n hai
nazaaro.n kii ma.nzil raahi
bahaaro.n kii ma.nzil raahii   ...

aa haa haa haa, la laa, laa la la, ah haa haa ha ha

maanaa ki hai gaharaa andheraa
gum hai Dagar kii chaa.Ndanii
mailii na ho dhu.Ndhalii pa.De na
dekh nazar kii chaa.Ndanii
Daale hue hai, raat kii chaadar
sitaaro.n kii ma.nzil raahii
bahaaro.n kii ma.nzil raahii   ...