गाना / Title: मेरे महबूब में क्या नहीं क्या नहीं - mere mahabuub me.n kyaa nahii.n kyaa nahii.n

चित्रपट / Film: Mere Mehboob

संगीतकार / Music Director: नौशाद अली-(Naushad)

गीतकार / Lyricist: Shakeel

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)आशा भोसले-(Asha)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



ल: मेरे महबूब में क्या नहीं क्या नहीं 
मेरे महबूब में क्या नहीं 
वो तो लाखों में है एक हसीं 
वो तो लाखों में है एक हसीं, एक हसीं 

आ: मेरे महबूब में क्या नहीं, क्या नहीं 
मेरे महबूब में क्या नहीं 
भोली सूरत अदा नाज़नीं 
भोली सूरत अदा नाज़नीं, नाज़नीं 
मेरे महबूब में क्या नहीं, क्या नहीं 
मेरे महबूब में क्या नहीं 

ल: आ ऽ ऽ
	मेरा महबूब एक चाँद है 
	हुस्न अपना निखारे हुए 
आ: ओ ऽ ऽ
ल: आसमान का फ़रिश्ता है वो 
	रूप इन्सान का धरे हुए 
आ: ओ ऽ ऽ
ल: रश्क\-ए\-जन्नत है वो महज़बीं 
	रश्क\-ए\-जन्नत है वो महज़बीं, महज़बीं 
	मेरे महबूब में क्या नहीं, क्या नहीं 

आ: आ ऽ ऽ
	माह हो अन्जुम हो या कैकशां
	सबसे प्यारा है मेरा सनम 
ल: आ ऽ ऽ
आ: उसके जलवों में है वो असर 
	होश उड़ जाये अल्लाह क़सम 
ल: आ ऽ ऽ
आ: देखले गर उसे तू कहीं 
	देखले गर उसे तू कहीं, तू कहीं 
	मेरे महबूब में क्या नहीं, क्या नहीं 
	मेरे महबूब में क्या नहीं 

ल: मेरा महबूब है जानेमन 
	करवा कदमाह रूह गुलबदन 
आ: मेरा दिलवर है ऐसा जवान 
	हो बहारों में जैसे चमन 
ल: उसकी चालों में ऐसी लचक 
	जैसे फूलों कि डाली हिले 
आ: उसकी आवाज़ में वो खनक 
	जैसे शीशे से शीशा मिले 
	उसके अंदाज़ है दिलनशीं 
दोनो: भोली सूरत अदा नाज़नीं, नाज़नीं 
	मेरे महबूब में क्या नहीं, क्या नहीं 
	मेरे महबूब में क्या नहीं 

आ: तेरे अफ़सानों में मेरी जान 
	है झलक मेरी अफ़सानों कि 
ल: दास्तानें है मिलती हुईं 
	अल्लाह हम दोनो परवानों 
दोनो: परवानों की
दोनो: एक ही शमा हो ना कहीं 
	वो तो लाखों में है एक हसीं, एक हसीं 
	मेरे महबूब में क्या नहीं, क्या नहीं 
	मेरे महबूब में क्या नहीं 



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

la: mere mahabuub me.n kyA nahii.n kyA nahii.n 
mere mahabuub me.n kyA nahii.n 
vo to laakho.n me.n hai ek hasii.n 
vo to laakho.n me.n hai ek hasii.n, ek hasii.n 

aa: mere mahabuub me.n kyA nahii.n, kyA nahii.n 
mere mahabuub me.n kyA nahii.n 
bholii suurat adA naazanii.n 
bholii suurat adA naazanii.n, naazanii.n 
mere mahabuub me.n kyA nahii.n, kyA nahii.n 
mere mahabuub me.n kyA nahii.n 

la: aa .a .a
	meraa mahabuub ek chaa.Nd hai 
	husn apanA nikhaare hue 
aa: o .a .a
la: aasamaan kA farishtaa hai vo 
	ruup insaan kA dhare hue 
aa: o .a .a
la: rashk\-e\-jannat hai vo mahazabii.n 
	rashk\-e\-jannat hai vo mahazabii.n, mahazabii.n 
	mere mahabuub me.n kyA nahii.n, kyA nahii.n 

aa: aa .a .a
	maah ho anjum ho yA kaikashaa.n
	sabase pyaaraa hai meraa sanam 
la: aa .a .a
aa: usake jalavo.n me.n hai vo asar 
	hosh u.D jaaye allaah qasam 
la: aa .a .a
aa: dekhale gar use tU kahii.n 
	dekhale gar use tU kahii.n, tU kahii.n 
	mere mahabuub me.n kyA nahii.n, kyA nahii.n 
	mere mahabuub me.n kyA nahii.n 

la: meraa mahabuub hai jaaneman 
	karavaa kadamaah ruuh gulabadan 
aa: meraa dilavar hai aisA javaan 
	ho bahaaro.n me.n jaise chaman 
la: usakii chaalo.n me.n aisI lachak 
	jaise phuulo.n ki Daalii hile 
aa: usakii aavaaz me.n vo khanak 
	jaise shiishe se shiishaa mile 
	usake a.ndaaz hai dilanashii.n 
dono: bholii suurat adA naazanii.n, naazanii.n 
	mere mahabuub me.n kyA nahii.n, kyA nahii.n 
	mere mahabuub me.n kyA nahii.n 

aa: tere afasaano.n me.n merI jaan 
	hai jhalak merI afasaano.n ki 
la: daastaane.n hai milatii huii.n 
	allaah ham dono paravaano.n 
dono: paravaano.n kii
dono: ek hii shamaa ho nA kahii.n 
	vo to laakho.n me.n hai ek hasii.n, ek hasii.n 
	mere mahabuub me.n kyA nahii.n, kyA nahii.n 
	mere mahabuub me.n kyA nahii.n