गाना / Title: बेदर्द ज़माने क्या तेरी - bedard zamaane kyaa terii

चित्रपट / Film: Lahore

संगीतकार / Music Director: Shyamsunder/Vinod ?

गीतकार / Lyricist: Rajinder Krishan

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



उस दिल की क़िस्मत क्या कहिये
उस दिल की क़िस्मत क्या कहिये
जिस दिल का सहारा कोई नहीं

बेदर्द ज़माने क्या तेरी
(बेदर्द ज़माने क्या तेरी महफ़िल में हमारे कोई नहीं)\-२
बेदर्द ज़माने

इस ग़म की रात के आँचल में,वैसे तो हज़ारों तारे हैं
(वैसे तो हज़ाअरों तारे हैं)\-२
बनजाये जो आस मुसाफ़िर की
बनजाये जो आस मुसाफ़िर की ऐसा ही सितारा कोई नहीं
बेदर्द ज़माने...

उल्फ़त के चमन में ऐइ नादां
उल्फ़त के चमन में ऐइ नादां क्यूँ ढूँढ रहा है कलियों को
यहाँ ग़म के काँटे उठते(चुबते?) हैं
यहाँ ग़म के काँटे उठते हैं, फूलों का नज़ारा कोई नहीं
बेदर्द ज़माने...



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

us dil kii qismat kyaa kahiye
us dil kii qismat kyaa kahiye
jis dil kaa sahaaraa koii nahii.n

bedard zamaane kyaa terii
(bedard zamaane kyaa terii mahafil me.n hamaare koii nahii.n)\-2
bedard zamaane

is Gam kii raat ke aa.Nchal me.n,vaise to hazaaro.n taare hai.n
(vaise to hazaaaro.n taare hai.n)\-2
banajaaye jo aas musaafir kii
banajaaye jo aas musaafir kii aisaa hii sitaaraa koii nahii.n
bedard zamaane...

ulfat ke chaman me.n aii naadaa.n
ulfat ke chaman me.n aii naadaa.n kyuu.N Dhuu.NDh rahaa hai kaliyo.n ko
yahaa.N Gam ke kaa.NTe uThate(chubate?) hai.n
yahaa.N Gam ke kaa.NTe uThate hai.n, phuulo.n kaa nazaaraa koii nahii.n
bedard zamaane...