गाना / Title: उल्फ़त के हैं काम निराले - ulfat ke hai.n kaam niraale

चित्रपट / Film: Aawaz

संगीतकार / Music Director: Salil Choudhary

गीतकार / Lyricist: Zia Sarhadi

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          

 


हस्रत\-ओ\-यास को ले कर शब\-ए\-ग़म आई है 
भीड़ की भीड़ है, तनहाई ही तनहाई है 

उल्फ़त के हैं काम निराले 
बन बन के बिगड़ जाते हैं 
क़िस्मत में न हो तो साथी 
मिल मिल के बिछड़ जाते हैं 
उल्फ़त के हैं ... 

( उम्मीदें भी हैं इक सपना 
  दुनिया में नहीं कुच अपना ) \-२ 
आँसू हैं तो बह जाते हैं 
अरमाँ है तो ? जाते हैं 
उल्फ़त के हैं ... 

( आवाज़ उठी है दिल से 
  बेदर्द ज़माने सुन ले ) \-२ 
कल तू भी उजड़ जायेगा 
हम आज उजड़ जाते हैं 
उल्फ़त के हैं ... 




        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
       


hasrat\-o\-yaas ko le kar shab\-e\-Gam aa_ii hai 
bhii.D kii bhii.D hai, tanahaa_ii hii tanahaa_ii hai 

ulfat ke hai.n kaam niraale 
ban ban ke biga.D jaate hai.n 
qismat me.n na ho to saathii 
mil mil ke bichha.D jaate hai.n 
ulfat ke hai.n ... 

( ummiide.n bhii hai.n ik sapanaa 
  duniyaa me.n nahii.n kuch apanaa ) \-2 
aa.Nsuu hai.n to bah jaate hai.n 
aramaa.N hai to ? jaate hai.n 
ulfat ke hai.n ... 

( aavaaz uThii hai dil se 
  bedard zamaane sun le ) \-2 
kal tuu bhii uja.D jaayegaa 
ham aaj uja.D jaate hai.n 
ulfat ke hai.n ...