गाना / Title: आज हम अपनी दुआओं का असर देखेंगे - aaj ham apanii duaao.n kaa asar dekhe.nge

चित्रपट / Film: Pakeezah

संगीतकार / Music Director: Ghulam Mohammad

गीतकार / Lyricist: Kaif Bhopali

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)chorus

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



आज हम अपनी दुआओं का असर देखेंगे
तीर\-ए\-नज़र देखेंगे, ज़ख्म\-ए\-जिगर देखेंगे (२)

आप तो आँख मिलाते हुए शरमाते हैं,
आप तो दिल के धड़कने से भी डर जाते हैं
फिर भी ये ज़िद्द् है के हम ज़ख्म\-ए\-जिगर देखेंगे,
तीर\-ए\-नज़र देखेंगे, ज़ख्म\-ए\-जिगर देखेंगे (२)

प्यार करना दिल\-ए\-बेताब बुरा होता है
सुनते आये हैं के ये ख्वाब बुरा होता है
आज इस ख़्वाब की ताबीर मगर देखेंगे
तीर\-ए\-नज़र देखेंगे, ज़ख्म\-ए\-जिगर देखेंगे (२)

जानलेवा है मुहब्बत का समा आज की रात
शमा हो जयेगी जल जल के धुंआ आज की रात
आज की रात बचेंगे तो सहर देखेंगे (२)
तीर\-ए\-नज़र देखेंगे, ज़ख्म\-ए\-जिगर देखेंगे (२)



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

aaj ham apanii duaao.n kaa asar dekhe.nge
tIr\-e\-nazar dekhe.nge, zakhm\-e\-jigar dekhe.nge (2)

aap to aa.Nkh milaate hue sharamaate hai.n,
aap to dil ke dha.Dakane se bhii Dar jaate hai.n
phir bhii ye zidd.h hai ke ham zakhm\-e\-jigar dekhe.nge,
tIr\-e\-nazar dekhe.nge, zakhm\-e\-jigar dekhe.nge (2)

pyaar karanaa dil\-e\-betaab buraa hotaa hai
sunate aaye hai.n ke ye khvaab buraa hotaa hai
aaj is Kvaab kii taabiir magar dekhe.nge
tIr\-e\-nazar dekhe.nge, zakhm\-e\-jigar dekhe.nge (2)

jaanalevaa hai muhabbat kaa samaa aaj kii raat
shamaa ho jayegii jal jal ke dhu.naa aaj kii raat
aaj kI raat bache.nge to sahar dekhe.nge (2)
tIr\-e\-nazar dekhe.nge, zakhm\-e\-jigar dekhe.nge (2)