गाना / Title: मेरे महबूब तुझे, मेरी मुहब्बत की क़सम - mere mahabuub tujhe, merii muhabbat kii qasam

चित्रपट / Film: Mere Mehboob

संगीतकार / Music Director: नौशाद अली-(Naushad)

गीतकार / Lyricist: Shakeel

गायक / Singer(s): मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



मेरे महबूब तुझे मेरी मुहब्बत की क़सम
फिर मुझे नरगिसी आँखों का सहारा दे दे
मेरा खोया हुआ रंगीन नज़ारा दे दे, मेरे महबूब तुझे ...

भूल सकती नहीं आँखें वो सुहाना मंज़र
जब तेरा हुस्न मेरे इश्क़ से टकराया था
और फिर राह में बिखरे थे हज़ारोँ नग़में
मैं वो नग़में तेरी आवाज़ को दे आया था
साज़\-ए\-दिल को उन्हीं गीतों का सहारा दे दे
मेरा खोया ...

याद है मुझको मेरी उम्र की पहली वो घड़ी
तेरी आँखों से कोई जाम पिया था मैने
मेरे रग रग में कोई बर्क़ सी लहराई थी
जब तेरे मरमरी हाथों को छुआ था मैने
आ मुझे फिर उन्हीं हाथों का सहारा दे दे
मेरा खोया ...

मैने इक बार तेरी एक झलक देखी है
मेरी हसरत है के मैं फिर तेरा दीदार करूँ
तेरे साए को समझ कर मैं हंसीं ताजमहल
चाँदनी रात में नज़रों से तुझे प्यार करूँ
अपनी महकी हुई ज़ुल्फ़ों का सहारा दे दे
मेरा खोया ...

ढूँढता हूँ तुझे हर राह में हर महफ़िल में
थक गये हैं मेरी मजबूर तमन्ना के कदम
आज का दिन मेरी उम्मीद का है आखिरी दिन
कल न जाने मैं कहाँ और कहाँ तू हो सनम
दो घड़ी अपनी निगाहों का सहारा दे दे
मेरा खोया ...

सामने आ के ज़रा पर्दा उठा दे रुख़ से
इक यही मेरा इलाज\-ए\-ग़म\-ए\-तन्हाई है
तेरी फ़ुरक़त ने परेशान किया है मुझको
अब मिल जा के मेरी जान भी बन आई है
दिल को भूली हुई यादों का सहारा दे दे
मेरा खोया ...




        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

mere mahabuub tujhe merii muhabbat kii qasam
phir mujhe naragisii aa.Nkho.n kaa sahaaraa de de
meraa khoyaa huaa ra.ngiin nazaaraa de de, mere mahabuub tujhe ...

bhuul sakatii nahii.n aa.Nkhe.n vo suhaanaa ma.nzar
jab teraa husn mere ishq se Takaraayaa thaa
aur phir raah me.n bikhare the hazaaro.N naGame.n
mai.n vo naGame.n terii aavaaz ko de aayaa thaa
saaz\-e\-dil ko unhii.n giito.n kaa sahaaraa de de
meraa khoyaa ...

yaad hai mujhako merii umr kii pahalii vo gha.Dii
terii aa.Nkho.n se koii jaam piyaa thaa maine
mere rag rag me.n koii barq sii laharaaii thii
jab tere maramarii haatho.n ko chhuaa thaa maine
aa mujhe phir unhii.n haatho.n kaa sahaaraa de de
meraa khoyaa ...

maine ik baar terii ek jhalak dekhii hai
merii hasarat hai ke mai.n phir teraa diidaar karuu.N
tere saae ko samajh kar mai.n ha.nsii.n taajamahal
chaa.Ndanii raat me.n nazaro.n se tujhe pyaar karuu.N
apanii mahakii huii zulfo.n kaa sahaaraa de de
meraa khoyaa ...

Dhuu.NDhataa huu.N tujhe har raah me.n har mahafil me.n
thak gaye hai.n merii majabuur tamannaa ke kadam
aaj kaa din merii ummiid kaa hai aakhirii din
kal na jaane mai.n kahaa.N aur kahaa.N tuu ho sanam
do gha.Dii apanii nigaaho.n kaa sahaaraa de de
meraa khoyaa ...

saamane aa ke zaraa pardaa uThaa de ruK se
ik yahii meraa ilaaj\-e\-Gam\-e\-tanhaa_ii hai
terii furaqat ne pareshaan kiyaa hai mujhako
ab mil jaa ke merii jaan bhii ban aaii hai
dil ko bhuulii huii yaado.n kaa sahaaraa de de
meraa khoyaa ...