गाना / Title: फिर छिड़ी रात, बात फूलों की - phir chhi.Dii raat, baat phuulo.n kii

चित्रपट / Film: Baazaar

संगीतकार / Music Director: Khaiyyam

गीतकार / Lyricist: Maqdoom Mohiuddin

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)Talat Aziz

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



म: (फिर छिड़ी रात, बात फूलों की
फ़:  रात है या बारात फूलों की) \-२

फ़: फूल के हैं फूल के गजरे \-२
   शाम फूलों की, रात फूलों की

म: आपका साथ\-साथ फूलों का \-२
   आपकी बात बात फूलों की

फ़: फूल खिलते रहेंगे दुनिया में \-२
   रोज़ निकलेगी बात फूलों की

म: नज़रें मिलती हैं जाम मिलते हैं \-२
   मिल रही है हयात फूलों की

म/फ़: ये महकती हुई ग़ज़ल मख़दूं \-२
   जैसे सहरा में रात फूलों की



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

ma: (phir chhi.Dii raat, baat phuulo.n kii
fa:  raat hai yaa baaraat phuulo.n kii) \-2

fa: phuul ke hai.n phuul ke gajare \-2
   shaam phuulo.n kii, raat phuulo.n kii

ma: aapakaa saath\-saath phuulo.n kaa \-2
   aapakii baat baat phuulo.n kii

fa: phuul khilate rahe.nge duniyaa me.n \-2
   roz nikalegii baat phuulo.n kii

ma: nazare.n milatii hai.n jaam milate hai.n \-2
   mil rahii hai hayaat phuulo.n kii

ma/fa: ye mahakatii huii Gazal maKaduu.n \-2
   jaise saharaa me.n raat phuulo.n kii