गाना / Title: ज़िंदगी ज़ुल्म सही ज़ब्र सही ग़म ही सही - zi.ndagii zulm sahii zabr sahii Gam hii sahii

चित्रपट / Film: Shagun

संगीतकार / Music Director: Khaiyyam

गीतकार / Lyricist: साहिर-(Sahir)

गायक / Singer(s): Suman Kalyanpur

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



ज़िंदगी ज़ुल्म सही ज़ब्र सही ग़म ही सही
दिल की फ़रियाद सही रूह का मातम ही सही
ज़िंदगी ज़ुल्म सही ...

हमने हर हाल में जीने की कसम खाई है
अब यही हाल मुक़द्दर है तो शिक़वा क्यों हो
हम सलीके से निभा देंगे जो दिन बाकी हैं
चाह रुसवा न हुई दर्द भी रुसवा क्यों हो
ज़िंदगी ज़ुल्म सही ...

हमको तक़दीर से बे\-वजह शिकायत क्यों हो
इसी तक़दीर ने चाहत की खुशी भी दी थी
आज अगर काँपती पलकों को दिये हैं आँसू
कल थिरकते हुए होंठों को हँसी भी दी थी
ज़िंदगी ज़ुल्म सही ...

हम हैं मायूस मगर इतने भी मायूस नहीं
एक न एक दिन तो यह अश्कों की लड़ी टूटेगी
एक न एक दिन तो छतेंगे यह ग़मों के बादल
एक न एक दिन उजाले की किरण फूटेगी
ज़िंदगी ज़ुल्म सही ...



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

zi.ndagii zulm sahii zabr sahii Gam hii sahii
dil kii fariyaad sahii ruuh kaa maatam hii sahii
zi.ndagii zulm sahii ...

hamane har haal me.n jiine kii kasam khaaii hai
ab yahii haal muqaddar hai to shiqavaa kyo.n ho
ham saliike se nibhaa de.nge jo din baakii hai.n
chaah rusavaa na hu_ii dard bhii rusavaa kyo.n ho
zi.ndagii zulm sahii ...

hamako taqadiir se be\-vajah shikaayat kyo.n ho
isii taqadiir ne chaahat kii khushii bhii dii thii
aaj agar kaa.Npatii palako.n ko diye hai.n aa.Nsuu
kal thirakate hu_e ho.nTho.n ko ha.Nsii bhii dii thii
zi.ndagii zulm sahii ...

ham hai.n maayuus magar itane bhii maayuus nahii.n
ek na ek din to yah ashko.n kii la.Dii TuuTegii
ek na ek din to chhate.nge yah Gamo.n ke baadal
ek na ek din ujaale kii kiraN phuuTegii
zi.ndagii zulm sahii ...