गाना / Title: वो हैं ज़रा खफ़ा खफ़ा, तो नैन यूं मिलाए हैं कि हो हो - vo hai.n zaraa khafaa khafaa, to nain yuu.n milaae hai.n ki ho ho

चित्रपट / Film: Shaagird

संगीतकार / Music Director: लक्ष्मीकांत - प्यारेलाल-(Laxmikant-Pyarelal)

गीतकार / Lyricist: मजरूह सुलतान पुरी-(Majrooh)

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



वो हैं ज़रा खफ़ा खफ़ा
तो नैन यूं मिलाए हैं कि हो हो
ना बोल दूं तो क्या करूँ
वो हँस के यूँ बुलाए हैं कि हो हो

१) हँस रही है चाँदनी
मचल के रो ना दूं कहीं
ऐसे कोई रूठता नहीं
ये तेरा खयाल है
करीब आ मेरे हंसीं
मुझको तुझसे कुछ गिला नहीं
बात यूँ बनाए हैं कि ओ हो ...
वो हैं ...

२) ऐसे मत सताइये
ज़रा तरस तो खाइये
दिल की धड़कन मत जगाइये
कुछ नहीं कहूंगा मैं
ना अँखियां झुकाइये
सर को कन्धे से उठाइये
ऐसे नींद आए है कि हम ...
वो हैं ...



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

vo hai.n zaraa khafaa khafaa
to nain yuu.n milaae hai.n ki ho ho
naa bol duu.n to kyaa karuu.N
vo ha.Ns ke yU.N bulaae hai.n ki ho ho

1) ha.Ns rahI hai chaa.NdanI
machal ke ro naa duu.n kahii.n
aise koI rUThataa nahI.n
ye teraa khayaal hai
kariib aa mere ha.nsii.n
mujhako tujhase kuchh gilaa nahii.n
baat yU.N banaae hai.n ki o ho ...
vo hai.n ...

2) aise mat sataa_iye
zaraa taras to khaa_iye
dil kI dha.Dakan mat jagaa_iye
kuchh nahI.n kahU.ngaa mai.n
naa a.Nkhiyaa.n jhukaa_iye
sar ko kandhe se uThaa_iye
aise nii.nd aae hai ki ham ...
vo hai.n ...