गाना / Title: खुदा भी आसमाँ से जब ज़मीं पर देखता होगा - khudaa bhii aasamaa.N se jab zamii.n par dekhataa hogaa

चित्रपट / Film: Dharti

संगीतकार / Music Director: शंकर - जयकिशन-(Shankar-Jaikishan)

गीतकार / Lyricist: Rajinder Krishan

गायक / Singer(s): मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



खुदा भी आसमाँ से जब ज़मीं पर देखता होगा
मेरे महबूब को किसने बनाया सोचता होगा
खुदा भी ...

मुसव्विर खुद परेशां है के ये तस्वीर किसकी है
बनोगी जिसकी तुम ऐसी हसीं तक़दीर किसकी है
कभी वो जल रहा होगा, कभी खुश हो रहा होगा
खुदा भी ...

ज़माने भर की मस्ती को निगाहों में समेटा है
कली से जिस्म को कितने बहारों ने लपेटा है
नहीं तुम सा कोई पहले न कोई दूसरा होगा
ख़ुदा भी ...

फ़रिश्ते भी यहाँ रातों को आकर घूमते होंगे
जहाँ रखती हो तुम पाँव, जगह वो चूमते होंगे
किसीके दिल पे क्या गुज़री, ये वो ही जानता होगा
खुदा भी ...



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

khudA bhI aasamaa.N se jab zamI.n par dekhatA hogA
mere mahabUb ko kisane banAyA sochatA hogA
khudA bhI ...

musavvir khud pareshaa.n hai ke ye tasvIr kisakI hai
banogI jisakI tum aisI hasI.n taqadIr kisakI hai
kabhI vo jal rahA hogA, kabhI khush ho rahA hogA
khudA bhI ...

zamaane bhar kii mastii ko nigaaho.n me.n sameTaa hai
kalii se jism ko kitane bahaaro.n ne lapeTaa hai
nahii.n tum saa ko_ii pahale na ko_ii duusaraa hogaa
Kudaa bhii ...

farishte bhI yahaa.N raato.n ko aakar ghUmate ho.nge
jahaa.N rakhatI ho tum paa.Nv, jagah vo chUmate ho.nge
kisIke dil pe kyA guzarI, ye vo hI jaanatA hogA
khudA bhI ...