गाना / Title: तेरी मेरी मुरादों के दिन हैं - terii merii muraado.n ke din hai.n

चित्रपट / Film: Saatwan Aasman

संगीतकार / Music Director: राम लक्ष्मण-(Ram Laxman)

गीतकार / Lyricist: Suraj Sanim

गायक / Singer(s): Preeti UttamGhansham Vaswani

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



(तेरी मेरी मुरादों के दिन हैं 
रातों को जग कर, सोने के दिन हैं ) \- २
(बिस्तर की ठंडक, सांसों की गरमी 
बाहों की शक्ति, होठों की नरमी ) \- २
होठों की नरमी \- ३ 
कुछ खोके कुछ पा जाने के दिन हैं 
रातों को जग कर, सोने के दिन हैं 

(बारिश की बूँदों में दो जिस्म भीगे 
भीगे बदन की शराबों को पीले ) \- २
शराबों को पीले \- ३ 
शराबी शराबी रातों के दिन हैं 
रातों को जग कर सोने के दिन हैं 

(शबनम गिरे फूल पर, फूल हम पर 
महक एक रचें फिर नई तीनों मिल कर ) \- २
नई तीनों मिलकर \- ३ 
गुलाबी गुलाबी झारों के दिन हैं 
रातों को जग कर सोने के दिन हैं 

तेरी मेरी मुरादों के दिन हैं 
रातों को जग कर, सोने के दिन हैं \- २



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

(terI merI murAdo.n ke din hai.n 
rAto.n ko jag kar, sone ke din hai.n ) \- 2
(bistar kI Tha.nDak, sA.nso.n kI garamii 
bAho.n kI shakti, hoTho.n kI naramI ) \- 2
hoTho.n kI naramI \- 3 
kuchh khoke kuchh paa jaane ke din hai.n 
rAto.n ko jag kar, sone ke din hai.n 

(baarish kI bU.Ndo.n me.n do jism bhIge 
bhIge badan kI sharAbo.n ko pIle ) \- 2
sharAbo.n ko pIle \- 3 
sharAbI sharAbI rAto.n ke din hai.n 
rAto.n ko jag kar sone ke din hai.n 

(shabanam gire phUl par, phUl ham par 
mahak ek rache.n phir naI tIno.n mil kar ) \- 2
naI tIno.n milakar \- 3 
gulAbI gulAbI jhAro.n ke din hai.n 
rAto.n ko jag kar sone ke din hai.n 

terI merI murAdo.n ke din hai.n 
rAto.n ko jag kar, sone ke din hai.n \- 2