गाना / Title: ज़िंदगी आ रहा हूँ मैं - zi.ndagii aa rahaa huu.N mai.n

चित्रपट / Film: Mashaal

संगीतकार / Music Director: हृदयनाथ मंगेशकर-(Hridaynath Mangeshkar)

गीतकार / Lyricist: जावेद अख्तर-(Javed Akhtar)

गायक / Singer(s): किशोर कुमार-(Kishore Kumar)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          

 

लिये सपने निगाहों में, चला हूँ तेरी राहों में
ज़िंदगी आ रहा हूँ मैं \- २

कई यादों के चेहरे हैं, कई किस्से पुराने हैं
तेरी सौ दास्तानें हैं, तेरे कितने फ़साने हैं  \- २
मगर एक वो कहानी है, जो अब मुझको सुनानी है
ज़िन्दगी आ रहा हूँ मैं 

मेरे हाथों की गरमी से, पिघल जायेंगी ज़ंजीरें
मेरे कदमों की आहट से, बदल जायेंगी तक़दीरें \- २
उम्मीदों के दिये लेकर, ये सब तेरे लिये लेकर
ज़िन्दगी आ रहा हूँ मैं 

कभी तुझको गिला मुझसे, कभी मुझको शिकायत है
मगर फिर भी तुझे मेरी, मुझे तेरी ज़रूरत है \- २
मैं ये इक़रार करता हूँ, मैं तुझसे प्यार करता हूँ
ज़िन्दगी आ रहा हूँ मैं 



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
       

liye sapane nigAho.n me.n, chalA hU.N terI rAho.n me.n
zi.ndagii aa rahA hU.N mai.n \- 2

kaI yaado.n ke chehare hai.n, kaI kisse purAne hai.n
terI sau dAstAne.n hai.n, tere kitane fasAne hai.n  \- 2
magar ek vo kahAnI hai, jo ab mujhako sunAnI hai
zindagI aa rahA hU.N mai.n 

mere haatho.n kI garamI se, pighal jaaye.ngI za.njIre.n
mere kadamo.n kI aahaT se, badal jaaye.ngI taqadIre.n \- 2
ummIdo.n ke diye lekar, ye sab tere liye lekar
zindagI aa rahA hU.N mai.n 

kabhI tujhako gilA mujhase, kabhI mujhako shikAyat hai
magar phir bhI tujhe merI, mujhe terI zarUrat hai \- 2
mai.n ye iqaraar karatA hU.N, mai.n tujhase pyaar karatA hU.N
zindagI aa rahA hU.N mai.n