गाना / Title: इश्क़ का ज़िक्र आसमानों पर - ishq kaa zikr aasamaano.n par

चित्रपट / Film: Parampara

संगीतकार / Music Director: Shiv-Hari

गीतकार / Lyricist:

गायक / Singer(s):

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



इश्क़ का ज़िक्र आसमानों पर
इश्क़ का नाम सब ज़ुबानों पर
खेल दिल का है ये
मगर इस में
खेल जाते हैं लोग जानों पर

मैं जिसकी तलाश में निकला
उसको तो मैं ने ढूँढ लिया
उसे ढूँढ के मैं खुद खो गया
मुझे इश्क़ हो गया, इश्क़ इश्क़   ...

क़ाफ़िर कहो तो कह लो
कह लो क़ाफ़िर कहो तो कह लो
मज़हब है इश्क़ मेरा
कुछ भी कहूँ ज़ुबान से
मतलब है इश्क़ मेरा
न समझो दिल्लगी है
कि ये दिल की लगी है
ये मेरी जान लेगी
ये सब कुछ फूँक देगी
धुआँ उठने लगा है
ये दम घुटने लगा है
कि दिल में हौले हौले
भड़क उठे हैं शोले

देख रही है सारी दुनिया
दूर खड़ी हैरानी से
सात समन्दर हार गये
ये आग बुझी न पानी से
मेरे दिल की नाबें चली गयी
बरसात बरस कर चली गयी
सावन भी आकर रो गया
मुझे इश्क़ हो गया, इश्क़, इश्क़   ...

जनाज़ा उठेगा, या बारात होगी
मगर आज उनसे मुलाक़ात होगी
बड़े ज़ोर की प्यास जगी है दिल में
बड़े ज़ोर की आज बरसात होगी

नि\-स स नि\-स स नि\-स स
नि\-प म\-प ग ग ग\-म
रे स स ग\-म ग ग नि\-प

कहाँ से आ रहा हूँ
कहाँ मैं जा रहा हूँ
मुझे इस की ख़बर क्या 
इधर क्या है उधर क्या
मेरे चित चोर से मैं
बन्धा हूँ डोर से मैं
जहाँ भी जायेगा वो
मुझे ले जायेगा वो
भूल भुलैय्या ननिन सजन के
मुझको इसकी ख़बर नहीं
जाने की तो है, वापस आने की कोई डगर नहीं
न सूरत उसकी आयी नज़र
न उसकी कोई आयी ख़बर
उस प्रेम गली को जो गया
मुझे इश्क़ हो गया, इश्क़, इश्क़   ...

इश्क़ खुदा है, इश्क़ ही रब है
इश्क़ ही तो दुनिया का सबब है
इश्क़ हो गया, इश्क़, इश्क़

इश्क़ ही जादू, इश्क़ ही खुशबू
इश्क़ नहीं तो क्या मैं, क्या तू
इश्क़ हो गया, इश्क़, इश्क़

नाम हज़ारों, इश्क़ अकेला
इश्क़ बिना है कौन सा मेला
इश्क़ हो गया, इश्क़, इश्क़

इश्क़ सयाना, इश्क़ दीवाना
इश्क़ को समझे क्या ये ज़माना
मुझे इश्क़ हो गया, इश्क़, इश्क़

इश्क़ की बातें हैं हर दिल में
मन्दिर, मस्जिद एक ही दिल में
इश्क़ हो गया, इश्क़, इश्क़

मुझे इश्क़ हो गया, इश्क़, इश्क़




        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

ishq kaa zikr aasamaano.n par
ishq kaa naam sab zubaano.n par
khel dil kaa hai ye
magar is me.n
khel jaate hai.n log jaano.n par

mai.n jisakii talaash me.n nikalaa
usako to mai.n ne Dhuu.NDh liyaa
use Dhuu.NDh ke mai.n khud kho gayaa
mujhe ishq ho gayaa, ishq ishq   ...

qaafir kaho to kah lo
kah lo qaafir kaho to kah lo
mazahab hai ishq meraa
kuchh bhii kahuu.N zubaan se
matalab hai ishq meraa
na samajho dillagii hai
ki ye dil kii lagii hai
ye merii jaan legii
ye sab kuchh phuu.Nk degii
dhuaa.N uThane lagaa hai
ye dam ghuTane lagaa hai
ki dil me.n haule haule
bha.Dak uThe hai.n shole

dekh rahii hai saarii duniyaa
duur kha.Dii hairaanii se
saat samandar haar gaye
ye aag bujhii na paanii se
mere dil kii naabe.n chalii gayii
barasaat baras kar chalii gayii
saavan bhii aakar ro gayaa
mujhe ishq ho gayaa, ishq, ishq   ...

janaazaa uThegaa, yaa baaraat hogii
magar aaj unase mulaaqaat hogii
ba.De zor kii pyaas jagii hai dil me.n
ba.De zor kii aaj barasaat hogii

ni\-sa sa ni\-sa sa ni\-sa sa
ni\-pa ma\-pa ga ga ga\-ma
re sa sa ga\-ma ga ga ni\-pa

kahaa.N se aa rahaa huu.N
kahaa.N mai.n jaa rahaa huu.N
mujhe is kii Kabar kyaa 
idhar kyaa hai udhar kyaa
mere chit chor se mai.n
bandhaa huu.N Dor se mai.n
jahaa.N bhii jaayegaa vo
mujhe le jaayegaa vo
bhuul bhulaiyyaa nanin sajan ke
mujhako isakii Kabar nahii.n
jaane kii to hai, vaapas aane kii koii Dagar nahii.n
na suurat usakii aayii nazar
na usakii koii aayii Kabar
us prem galii ko jo gayaa
mujhe ishq ho gayaa, ishq, ishq   ...

ishq khudaa hai, ishq hii rab hai
ishq hii to duniyaa kaa sabab hai
ishq ho gayaa, ishq, ishq

ishq hii jaaduu, ishq hii khushabuu
ishq nahii.n to kyaa mai.n, kyaa tuu
ishq ho gayaa, ishq, ishq

naam hazaaro.n, ishq akelaa
ishq binaa hai kaun saa melaa
ishq ho gayaa, ishq, ishq

ishq sayaanaa, ishq diivaanaa
ishq ko samajhe kyaa ye zamaanaa
mujhe ishq ho gayaa, ishq, ishq

ishq kii baate.n hai.n har dil me.n
mandir, masjid ek hii dil me.n
ishq ho gayaa, ishq, ishq

mujhe ishq ho gayaa, ishq, ishq