गाना / Title: बूँदें नहीं सितारे टपके हैं कहकशां से - buu.Nde.n nahii.n sitaare Tapake hai.n kahakashaa.n se

चित्रपट / Film: Saajan Ki Saheli

संगीतकार / Music Director: Usha Khanna

गीतकार / Lyricist: मजरूह सुलतान पुरी-(Majrooh)

गायक / Singer(s): मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



बूँदें नहीं सितारे टपके हैं कहकशां से
सदके उतर रहे हैं तुम पर ये आस्मां से
बूँदें नहीं सितारे टपके हैं कह्कशां से

मोती के रँग रुत के क़तरे दमक रहे हैं
या रेशमी लटों में जुगनू चमक रहे हैं
आँचल में जैसे बिजली कौन्दे यहाँ वहाँ से
सदके उतर रहे हैं तुम पर ये आस्मां से

देखे तो कोई आलम भीगे से पैरहन का
पानी में है ये शुला, या नूर है बदन का
अँगड़ाई ले रहे हैं, अरमां जवां जवां से
सदके उतर रहे हैं तुम पर ये आस्मां से

पहलू में आके मेरे क्या चीज़ लग रही हो
बाहों के दायरे में तस्वीर लग रही हो
हैरां हूँ के तुमको देखूँ कहाँ कहाँ से
सदके उतर रहे हैं तुम पर ये आस्मां से

बूँदें नहीं सितारे टपके हैं कहकशां से
सदके उतर रहे हैं तुम पर ये आस्मां से
बूँदें नहीं सितारे टपके हैं कह्कशां से



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

buu.Nde.n nahii.n sitaare Tapake hai.n kahakashaa.n se
sadake utar rahe hai.n tum par ye aasmaa.n se
buu.Nde.n nahii.n sitaare Tapake hai.n kahkashaa.n se

motii ke ra.Ng rut ke qatare damak rahe hai.n
yaa reshamii laTo.n me.n juganuu chamak rahe hai.n
aa.Nchal me.n jaise bijalii kaunde yahaa.N vahaa.N se
sadake utar rahe hai.n tum par ye aasmaa.n se

dekhe to koii aalam bhiige se pairahan kaa
paanii me.n hai ye shulaa, yaa nuur hai badan kaa
a.Nga.Daaii le rahe hai.n, aramaa.n javaa.n javaa.n se
sadake utar rahe hai.n tum par ye aasmaa.n se

pahaluu me.n aake mere kyaa chiiz lag rahii ho
baaho.n ke daayare me.n tasviir lag rahii ho
hairaa.n huu.N ke tumako dekhuu.N kahaa.N kahaa.N se
sadake utar rahe hai.n tum par ye aasmaa.n se

buu.Nde.n nahii.n sitaare Tapake hai.n kahakashaa.n se
sadake utar rahe hai.n tum par ye aasmaa.n se
buu.Nde.n nahii.n sitaare Tapake hai.n kahkashaa.n se