गाना / Title: साथी हाथ बढ़ना साथी हाथ बढ़ना - saathii haath ba.Dhanaa saathii haath ba.Dhanaa

चित्रपट / Film: Naya Daur

संगीतकार / Music Director: ओ. पी. नय्यर-(O P Nayyar)

गीतकार / Lyricist: साहिर-(Sahir)

गायक / Singer(s): आशा भोसले-(Asha)मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi)chorus

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



साथी हाथ बढ़ाना, साथी हाथ बढ़ाना 
एक अकेला थक जायेगा मिल कर बोझ उठाना 
साथी हाथ बढ़ाना ...

१) हम मेहनतवालों ने जब भी मिलकर कदम बढ़ाया 
सागर ने रस्ता छोड़ा परबत ने शीश झुकाया 
फ़ौलादी हैं सीने अपने फ़ौलादी हैं बाहें 
हम चाहें तो पैदा करदें, चट्टानों में राहें, साथी ...

२) मेहनत अपनी लेख की रखना मेहनत से क्या डरना 
कल गैरों की खातिर की अब अपनी खातिर करना 
अपना दुख भी एक है साथी अपना सुख भी एक 
अपनी मंजिल सच की मंजिल अपना रस्ता नेक, साथी ...

३) एक से एक मिले तो कतरा बन जाता है दरिया 
एक से एक मिले तो ज़र्रा बन जाता है सेहरा 
एक से एक मिले तो राई बन सकती है परबत 
एक से एक मिले तो इन्सान बस में कर ले किस्मत, साथी ...

४) माटी से हम लाल निकालें मोती लाएं जल से 
जो कुछ इस दुनिया में बना है बना हमारे बल से 
कब तक मेहनत के पैरों में ये दौलत की ज़ंज़ीरें 
हाथ बढ़ाकर छीन लो अपने सपनों की तस्वीरें, साथी ...




        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

saathii haath ba.DhAnaa, saathii haath ba.DhAnaa 
ek akelaa thak jaayegaa mil kar bojh uThaanaa 
sAthI hAth ba.DhAnA ...

1) ham mehanatavaalo.n ne jab bhii milakar kadam ba.Dhaayaa 
saagar ne rastaa chho.Daa parabat ne shIsh jhukaayaa 
faulaadii hai.n siine apane faulaadii hai.n baahe.n 
ham chAhe.n to paidA karade.n, chaTTAno.n me.n rAhe.n, sAthI ...

2) mehanat apanii lekh kii rakhanaa mehanat se kyaa Daranaa 
kal gairo.n kii khaatir kii ab apanii khaatir karanaa 
apanaa dukh bhii ek hai saathii apanaa sukh bhii ek 
apanii ma.njil sach kii ma.njil apanaa rastaa nek, saathii ...

3) ek se ek mile to kataraa ban jaataa hai dariyaa 
ek se ek mile to zarraa ban jaataa hai seharaa 
ek se ek mile to raa_ii ban sakatii hai parabat 
ek se ek mile to insaan bas me.n kar le kismat, saathii ...

4) maaTii se ham laal nikaale.n motii laae.n jal se 
jo kuchh is duniyaa me.n banaa hai banaa hamaare bal se 
kab tak mehanat ke pairo.n me.n ye daulat kii za.nziire.n 
haath ba.Dhaakar chhiin lo apane sapano.n kii tasvIre.n, saathii ...