गाना / Title: यही अरमान लेकर आज अपने घर से हम निकले - yahii aramaan lekar aaj apane ghar se ham nikale

चित्रपट / Film: Shabaab

संगीतकार / Music Director: नौशाद अली-(Naushad)

गीतकार / Lyricist: Shakeel

गायक / Singer(s): मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



यही अरमान लेकर आज, अपने घर से हम निकले
जहाँ है ज़िंदगी अपनी, उसी कूचे में दम निकले
यही...

सितारों जगमगाओ तुम, बहारों मुस्कुराओ तुम
मेरी उजड़ी हुई मुहब्बत की, हँसी मिल कर उड़ाओ तुम
जिन्हें सजदे किए हमने, वो पत्थर के सनम निकले
यही...

तमन्ना यही है अब तो, मेरा सर हो तेरा दर हो
न आँसू कोई आँखों में, न शिकवा कोई लब पर हो
अगर यूँ मौत आ जाए तो अपने दिल से ग़म निकले
यही...



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

yahI aramAn lekar Aj, apane ghar se ham nikale
jahA.N hai zi.ndagI apanI, usI kUche me.n dam nikale
yahI...

sitAro.n jagamagAo tum, bahAro.n muskurAo tum
merI uja.DI huI muhabbat kI, ha.NsI mil kar u.DAo tum
jinhe.n sajade kie hamane, vo patthar ke sanam nikale
yahI...

tamannA yahI hai ab to, merA sar ho terA dar ho
na A.NsU koI A.Nkho.n me.n, na shikavA koI lab par ho
agar yU.N maut A jAe to apane dil se Gam nikale
yahI...