गाना / Title: ज्योत से ज्योत जगाते चलो, प्रेम की गंगा बहाते चलो - jyot se jyot jagaate chalo, prem kii ga.ngaa bahaate chalo

चित्रपट / Film: Sant Gyaneshwar

संगीतकार / Music Director: लक्ष्मीकांत - प्यारेलाल-(Laxmikant-Pyarelal)

गीतकार / Lyricist: भरत व्यास-(Bharat Vyas)

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)मुकेश-(Mukesh)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



ज्योत से ज्योत जगाते चलो, प्रेम की गंगा बहाते चलो
राह में आए जो दीन दुखी, सबको गले से लगाते चलो

जिसका न कोई संगी साथी ईश्वर है रखवाला
जो निर्धन है जो निर्बल है वह है प्रभू का प्यारा
प्यार के मोती लुटाते चलो, प्रेम की गंगा...

आशा टूटी ममता रूठी छूट गया है किनारा
बंद करो मत द्वार दया का दे दो कुछ तो सहारा
दीप दया का जलाते चलो, प्रेम की गंगा...

छाई है छाओं और अंधेरा भटक गई हैं दिशाएं
मानव बन बैठा है दानव किसको व्यथा सुनाएं
धरती को स्वर्ग बनाते चलो, प्रेम की गंगा...




ज्योत से ज्योत जगाते चलो प्रेम की गंगा बहाते चलो
राह में आए जो दीन दुखी सब को गले से लगाते चलो
प्रेम की गंगा बहाते चलो ...

कौन है ऊँचा कौन है नीचा सब में वो ही समाया
भेद भाव के झूठे भरम में ये मानव भरमाया
धर्म ध्वजा फहराते चलो, प्रेम की गंगा ...

सारे जग के कण कण में है दिव्य अमर इक आत्मा
एक ब्रह्म है एक सत्य है एक ही है परमात्मा
प्राणों से प्राण मिलाते चलो, प्रेम की गंगा ...




        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

jyot se jyot jagaate chalo, prem kii ga.ngaa bahaate chalo
raah me.n aae jo diin dukhii, sabako gale se lagaate chalo

jisakaa na koii sa.ngii saathii iish{}var hai rakhavaalaa
jo nirdhan hai jo nirbal hai vah hai prabhuu kaa pyaaraa
pyaar ke motii luTaate chalo, prem kii ga.ngaa...

aashaa TuuTii mamataa ruuThii chhuuT gayaa hai kinaaraa
ba.nd karo mat dvaar dayaa kaa de do kuchh to sahaaraa
diip dayaa kaa jalaate chalo, prem kii ga.ngaa...

chhaaI hai chhaao.n aur a.ndheraa bhaTak ga_ii hai.n dishaae.n
maanav ban baiThaa hai daanav kisako vyathaa sunaae.n
dharatii ko svarg banaate chalo, prem kii ga.ngaa...




jyot se jyot jagaate chalo prem kii ga.ngaa bahaate chalo
raah me.n aa_e jo diin dukhii sab ko gale se lagaate chalo
prema kii ga.ngaa bahaate chalo ...

kaun hai uu.Nchaa kaun hai niichaa sab me.n vo hii samaayaa
bhed bhaav ke jhuuThe bharam me.n ye maanav bharamaayaa
dharm dhvajaa phaharaate chalo, prem kii ga.ngaa ...

saare jag ke kaN kaN me.n hai divya amar ik aatmaa
ek brahm hai ek satya hai ek hii hai paramaatmaa
praaNo.n se praaN milaate chalo, prem kii ga.ngaa ...