गाना / Title: मेरे मन की गंगा और तेरे मन की जमुना का - mere man kii ga.ngaa aur tere man kii jamunaa kaa

चित्रपट / Film: Sangam

संगीतकार / Music Director: शंकर - जयकिशन-(Shankar-Jaikishan)

गीतकार / Lyricist: Shailendra

गायक / Singer(s): मुकेश-(Mukesh)Vyjayantimala

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



मेरे मन की गंगा और तेरे मन की जमुना का
बोल राधा बोल संगम होगा की नहीं
अरे बोल राधा बोल संगम होगा की नहीं
    नहीं, कभी नहीं!

कितनी सदियाँ बीत गईं हैं
हाय तुझे समझाने में
मेरे जैसा धीरज वाला है कोई और ज़माने में
मन का बढ़ता बोझ कभी कम होगा की नहीं
बोल राधा बोल संगम होगा की नहीं
    जा जा!

दो नदियों का मेल अगर इतना पावन कहलाता है
क्यों न जहाँ दो दिल मिलते हैं, स्वर्ग वहाँ बस जाता है
पत्थर पिघले दिले तेरा नम होगा की नहीं
बोल राधा बोल संगम होगा की नहीं
    उँह

तेरी ख़ातिर मैं तरसा यूँ जैसे धरती सावन को
राधा राधा एक रटन है साँस की आवन जावन को
हर मौसम है प्यार का मौसम होगा की नहीं
बोल राधा बोल संगम होगा की नहीं
    जाओ न क्यों सताते हो! होगा, होगा, होगा!




        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

mere man kii ga.ngaa aur tere man kii jamunaa kaa
bol raadhaa bol sa.ngam hogaa kii nahii.n
are bol raadhaa bol sa.ngam hogaa kii nahii.n
    nahii.n, kabhii nahii.n!

kitanii sadiyaa.N biit ga_ii.n hai.n
haay tujhe samajhaane me.n
mere jaisaa dhiiraj vaalaa hai koii aur zamaane me.n
man kaa ba.Dhataa bojh kabhii kam hogaa kii nahii.n
bol raadhaa bol sa.ngam hogaa kii nahii.n
    jaa jaa!

do nadiyo.n kaa mel agar itanaa paavan kahalaataa hai
kyo.n na jahaa.N do dil milate hai.n, svarg vahaa.N bas jaataa hai
patthar pighale dile teraa nam hogaa kii nahii.n
bol raadhaa bol sa.ngam hogaa kii nahii.n
    u.Nh

terii Kaatir mai.n tarasaa yuu.N jaise dharatii saavan ko
raadhaa raadhaa ek raTan hai saa.Ns kii aavan jaavan ko
har mausam hai pyaar kaa mausam hogaa kii nahii.n
bol raadhaa bol sa.ngam hogaa kii nahii.n
    jaao na kyo.n sataate ho! hogaa, hogaa, hogaa!