गाना / Title: ज़ुल्फ़ों की सुनहरी छाँव तले - zulfo.n kii sunaharii chhaa.Nv tale

चित्रपट / Film: Zindagi Ya Toofan

संगीतकार / Music Director: Nashad

गीतकार / Lyricist: Nakshab

गायक / Singer(s): तलत महमूद-(Talat Mahmood)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          




उधर बालों में कंघी हो रही है ख़म निकलता है
इधर रग रग से खिंच खिंच कर हमारा दम निकलता है

ज़ुल्फ़ों की सुनहरी छाँव तले
इक आग लगी दो दीप जले
जब पहली नज़र के तीर चले
मत पूछ कि दिल पर क्या गुज़री

जब प्यार हुए दो नैन मिले
जब आयी बहार और फूल खिले
जब बात हुई और लब न हिले
मत पूछ कि दिल पर क्या गुज़री ...

इतना सा है दिल का अफ़साना
अपना न हुआ इक बेगाना
नज़रें तो मिली और दिल न मिले
कुछ उनसे हमें शिक़वे न गिले
क्या खूब मिले उल्फ़त के सिले
मत पूछ कि दिल पर क्या गुज़री ...

रह रह के तड़पना घबराना
हर बात पे दिल भर भर आना
आँसू भी बहे सीना भी जले
अरमान अजब काँटों में ढले
इस प्यार से हम बेप्यार भले
मत पूछ कि दिल पर क्या गुज़री ...




        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      


udhar baalo.n me.n ka.nghii ho rahii hai Kam nikalataa hai
idhar rag rag se khi.nch khi.nch kar hamaaraa dam nikalataa hai

zulfo.n kii sunaharii chhaa.Nv tale
ik aag lagii do diip jale
jab pahalii nazar ke tiir chale
mat puuchh ki dil par kyaa guzarii

jab pyaar hue do nain mile
jab aayii bahaar aur phuul khile
jab baat huii aur lab na hile
mat puuchh ki dil par kyaa guzarii ...

itanaa saa hai dil kaa afasaanaa
apanaa na huaa ik begaanaa
nazare.n to milii aur dil na mile
kuchh unase hame.n shiqave na gile
kyaa khuub mile ulfat ke sile
mat puuchh ki dil par kyaa guzarii ...

rah rah ke ta.Dapanaa ghabaraanaa
har baat pe dil bhar bhar aanaa
aa.Nsuu bhii bahe siinaa bhii jale
aramaan ajab kaa.NTo.n me.n Dhale
is pyaar se ham bepyaar bhale
mat puuchh ki dil par kyaa guzarii ...