गाना / Title: नज़र आती नहीं मंज़िल, तड़पने से भी क्या हासिल - nazar aatii nahii.n ma.nzil, ta.Dapane se bhii kyaa haasil

चित्रपट / Film: Kaanch Aur Heera

संगीतकार / Music Director: Ravindra Jain

गीतकार / Lyricist: Ravindra Jain

गायक / Singer(s): मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi)Chandrani Mukherjee

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



नज़र आती नहीं मंज़िल, तड़पने से भी क्या हासिल
तक़दीर में ऐ मेरे दिल, अंधेरे ही अंधेरे हैं

मजबूरी ने जिसको मारा, उसका कौन सहारा
मांझी तो मिल जाते हैं पर मिलता नहीं किनारा

नैनों से यूँ छिन गई ज्योती सीप से जैसे मोती
एक जान और सौ दुश्मन हैं, काश ये जान न होती



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

nazar aatii nahii.n ma.nzil, ta.Dapane se bhii kyaa haasil
taqadiir me.n ai mere dil, a.ndhere hii a.ndhere hai.n

majabuurii ne jisako maaraa, usakaa kaun sahaaraa
maa.njhii to mil jaate hai.n par milataa nahii.n kinaaraa

naino.n se yuu.N chhin ga_ii jyotii siip se jaise motii
ek jaan aur sau dushman hai.n, kaash ye jaan na hotii